हॉस्टन, एपी। अमेरिका के आसपास के स्वास्थ्य विभाग जो कोरोना वायरस के प्रकोपों का पता लगाने के लिए संपर्क ट्रैक्टर्स का उपयोग कर रहे हैं, उन्हें संक्रमित और उजागर लोगों के सहयोग के मामलों और प्रतिरोध के बीच अपनी रैंक को कम करने के लिए पांव मार रहे हैं।

कम प्रशिक्षित कॉन्टेक्ट ट्रेलर के साथ केस लॉड को संभाला जा रहा है। यह कोरोना वायरस से प्रभावित एरिज़ोना के नेशनल गार्ड के सदस्यों ने कहा। लुइसियाना में, जिन लोगों ने सकारात्मक परीक्षण किया है, वे आम तौर पर स्वास्थ्य अधिकारियों को जवाब देने के लिए दो दिनों से अधिक इंतजार करते हैं - बीमारी को फैलने देते हैं। कई लोगों को संदेह और उदासीनता के माध्यम से लोगों को यह समझाने के लिए तोड़ना मुश्किल हो रहा है कि अनुपालन महत्वपूर्ण है।

कहीं ना कहीं वायरस को लेकर लोगों की लापरवाही मामलों को ट्रैक होने में परेशानी खड़ी कर रहे हैं। कोई बताता नहीं तो कोई बाद में बताता है। लोगों को यह लग रहा है कि अब वायरस का खतरा अधिक नहीं है। हालांकि, अमेरिका में कोराना वायरस का कई महिनों के बीत जाने के बाद भी हालात खराब है। 

वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, अमेरिका में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या मंगलवार सुबह तक बढ़कर 26 लाख 81 हजार पार हो गई। कुल 1 लाख 28 हजार 774 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि 11 लाख 06 हजार लोग ठीक भी हुए हैं, जो कुल संक्रमितों का 41 फीसदी है। 14 लाख 46 हजार लोगों का अस्पतालों में अभी इलाज चल रहा है, जो कुल संक्रमितों का 54 फीसदी है। अमेरिका में कुल 5 फीसदी कोरोना संक्रमित लोगों की मौत हुई है।

अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में सबसे ज्यादा 417,328 केस सामने आए हैं। सिर्फ न्यूयॉर्क में ही 31,496 लोग मारे गए हैं। इसके बाद कैलिफॉर्निया में 222,985 कोरोना मरीजों में से 5,976 लोगों की मौत हुई। इसके अलावा न्यू जर्सी, टेक्सस, मैसाचुसेट्स, इलिनॉयस, फ्लोरिडा भी सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं। बता दें कि दुनिया में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले अभी भी अमेरिका में ही सबसे ज्यादा तेजी से बढ़ रहे हैं।

Posted By: Nitin Arora

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस