न्यूयॉर्क, प्रेट्र। अमेरिका में कोरोना महामारी का केंद्र बने न्यूयॉर्क राज्य के हालात में सुधार के संकेत मिले हैं। राज्य के गवर्नर एंड्रयू कुओमो ने कहा, बीते दो दिनों में मृतकों के आंकड़े में स्थिरता के साथ ही अस्पतालों और आइसीयू में भर्ती होने वालों की संख्या में दिख रही कमी अच्छे संकेत हो सकते हैं। अमेरिका में कोरोना से संक्रमितों की संख्या बढ़कर तीन लाख 67 हजार से ज्यादा हो गई है। देश में अब तक करीब 11 हजार पीड़ितों की मौत हो चुकी है।

महामारी से सबसे ज्यादा जूझ रहे न्यूयॉर्क राज्य में ही संक्रमण के एक लाख 31 हजार मामले हैं। इन मामलों में से करीब 70 हजार अकेले न्यूयॉर्क शहर में हैं। राज्य में जान गंवाने वालों का आंकड़ा भी पांच हजार के करीब पहुंच रहा है। न्यूयॉर्क में बड़ी संख्या में लोगों के संक्रमित होने से अस्पतालों में जगह नहीं बची है। मुर्दाघर भी शवों से भरे हैं। इन सबके बीच उम्मीद की कुछ किरणें भी दिख रही हैं।

गवर्नर कुओमो ने पत्रकारों से कहा, राज्य में पिछले दो दिन से मरने वालों की दर में स्थिरता दिख रही है। गत शनिवार को राज्य में 630 पीड़ितों की मौत हुई थी। इसके बाद मरने वालों की संख्या रविवार और सोमवार को क्रमश: 594 और 599 दर्ज की गई। उन्होंने हालांकि इसके साथ ही आगाह किया है कि मामले बढ़ भी सकते हैं। कुओमो के सहयोगी जिम मेलेट्रास ने कहा, राज्य में अप्रैल के आखिर तक महामारी के चरम पर पहुंचने का आकलन है। कोरोना रोगियों के लिए करीब एक लाख दस हजार बिस्तरों की जरूरत पड़ेगी।

सोशल डिस्टेसिंग के उल्लंघन पर एक हजार डॉलर जुर्माना

गवर्नर कुओमो ने न्यूयॉर्क में सोशल डिस्टेसिंग नियमों के उल्लंघन पर 500 डॉलर के अधिकतम जुर्माने को बढ़ाकर एक हजार डॉलर (करीब 75 हजार रुपये) करने का एलान किया है। उन्होंने कहा, इससे सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने में मदद मिलेगी।

चर्च में बनाया जा रहा अस्पताल

न्यूयॉर्क में कोरोना वायरस के बढ़ते संकट का सामना करने के लिए एक बड़े चर्च को अस्पताल में तब्दील किया जा रहा है। मैनहट्टन के सेंट जॉन कैथेड्रल चर्च के डीन क्लिफ्टन डेनियल के अनुसार, चर्च में पर्यावरण के अनुकूल नौ मेडिकल टेंट होंगे। इनमें करीब 200 रोगियों को रखा जा सकेगा।

कई भारतवंशी भी कोरोना पॉजिटिव

अमेरिका में कोरोना की चपेट में आने वालों में भारतीय मूल के लोगों की भी बड़ी संख्या बताई जा रही है। न्यूयॉर्क, न्यूजर्सी, वाशिंगटन और वर्जीनिया में कई भारतवंशी पीड़ित बताए जा रहे हैं। इनमें से ज्यादातर सेल्फ क्वारंटाइन में हैं। हालांकि अभी कोरोना पॉजिटिव भारतवंशियों का कोई अधिकृत आंकड़ा सामने नहीं आया है। इस बीच, यूएनआइ न्यूज एजेंसी के लिए काम कर चुके वरिष्ठ पत्रकार ब्रह्मा कुचिभोटला का सोमवार रात न्यूयॉर्क के एक अस्पताल में निधन हो गया।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस