सैन फ़्रांसिस्को (एजेंसी)। दुनिया के सबसे ताकतवर देश के राष्ट्रपति को क्या कोई 'प्रैंक कॉल' से मूर्ख बना सकता है? वो ताकतवर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप हों तो, क्या ऐसा मुमकिन है। ऐसा हो सकता है या नहीं हो सकता है के बीच अमेरिका के प्रसिद्ध कामेडियन जॉन मेलेंडेज चौंकाने वाला दावा कर रहे हैं। मलेंडेज ने ट्रंप को उन्हीं के सुरक्षित प्लेन में प्रैंक कॉल से बेवकूफ बनाने का दावा किया है।

सिनेटर बनकर किया प्रैंक कॉल

मेलेंडेज ने बताया कि उन्होंने खुद को न्यू जर्सी का सिनेटर रॉबर्ट मेनेंडेज बताते हुए बुधवार को अमेरिकी राष्ट्रपति के विमान एयरफोर्स वन पर ट्रंप को फोन किया था। उस वक्त ट्रंप नॉर्थ डेकोटा में एक रैली को संबोधित करने के बाद वापस वाशिंगटन लौट रहे थे।

ट्रंप की बातचीत की रिकॉर्डिंग

इतना ही नहीं, मेलेंडेज ने ट्रंप के साथ हुई अपनी बातचीत की रिकॉर्डिंग अपने कार्यक्रम 'द शटरिंग जॉन पॉडकास्ट' में प्रसारित भी की। तीन मिनट की इस रिकॉर्डिंग में सुनाई दे रही दूसरी ओर की आवाज ट्रंप जैसी ही लग रही थी। बता दें कि न्यू जर्सी के सिनेटर मेनेंडेज के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में जांच की गई थी, हालांकि बाद में उनके खिलाफ लगे आरोप खारिज कर दिए गए। जो रिकॉर्डिंग सामने आई है उसमें ट्रंप अपनी बातचीत में कह रहे हैं, 'आप बेहद-बेहद मुश्किल हालात से गुजरे और मुझे नहीं लगता कि वह ठीक था, लेकिन आपको बहुत बहुत बधाई।'

अप्रवासन, अवैध प्रवासियों के मुद्दे पर बातचीत

रिकॉर्डिंग से ये भी पता चला कि ट्रंप और प्रैंक कॉल पर मौजूद मलेंडेज के बीच अवैध प्रवासियों के मुद्दे से लेकर जस्टिस अंथनी केनेडी के तबादले जैसे विभिन्न मुद्दों पर बातचीत हुई। आप्रवासन पर संक्षिप चर्चा के दौरान ट्रंप ने कहा, 'मैं शीर्ष स्तर पर किसी भी स्थिति का ख्याल रखने में सक्षम होना चाहता हूं। मैं छोटे समाधान के बजाय बड़ा समाधान करना चाहता हूं।' वहीं, कॉमेडियन ने राष्ट्रपति से उच्चतम न्यायालय के उम्मीदवार का चयन करने का भी आग्रह किया। ट्रंप ने जवाब में कहा कि उनके पास लोगों की एक बड़ी सूची है और वे 12 से 14 दिनों में नामांकित व्यक्ति की घोषणा करेंगे।

केवल डेढ़ घंटे में प्रैंक कॉल ने किया काम

मेलेंडेज ने बताया कि मैं चौंक गया कि व्हाइट हाउस स्विचबोर्ड से प्रैंक कॉल का जवाब आना है। उन्होंने कहा, 'मुझे विश्वास नहीं था कि 'एयरफोर्स वन' में ट्रंप को फोन पर लाने के लिए डेढ़ घंटा लगेगा। इस प्रैंक की शुरुआत तब हुई जब मेलेंडेज ने अपने प्रोड्यूसर के साथ मिलकर व्हाइट हाउस में कॉल मिलाया और कहा कि उन्हें राष्ट्रपति से बात करनी है। उन्होंने कई बार कोशिश की। जिसके बाद मेलेंडेज ने फर्जी ब्रिटिश उच्चारण और सीनेटर मेनेंडेज के सहायक होने का दावा किया। थोड़ी देर बाद, पॉडकास्ट में कॉमेडियन को व्हाइट हाउस से एक कॉल प्राप्त हुई, जिसमें सीनेटर के फोन नंबर की पुष्टि की मांग की गई। यह देखते हुए कि कॉमेडियन का फोन नंबर मेनेंडेज के रिकॉर्ड में नहीं है, ऑपरेटर ने मेलेंडेज के स्पष्टीकरण को स्वीकार किया कि वह छुट्टी पर थे। बाद में मेलेंडेज ने ट्रंप की आवाज सुनने से पहले उनके दामाद जैरेड कुशनेर की आवाज सुनी।

व्हाइट हाउस से अबतक कोई टिप्पणी नहीं आई

कमेडियन मेलेंडेज का कहना है कि उन्होंने खुद को सेनेटर का सहायक बताते हुए व्हाइट हाउस फोन किया था, जिसने एयरफोर्स वन में बैठे अमेरिकी राष्ट्रपति से सीधे उनकी बात करा दी। उधर इस मामले को लेकर व्हाइट हाउस की तरफ से फिलहाल कोई टिप्पणी नहीं की गई है। हालांकि इस बीच व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने कहा है कि रिकॉर्डिंग की प्रमाणिकता पर विवाद नहीं होना चाहिए।

Posted By: Nancy Bajpai

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस