नई दिल्‍ली (ऑनलाइन डेस्‍क)। बीते कुछ समय से जंगलों में आग लगने की घटना काफी अधिक बढ़ गई हैं। इसकी वजह से कई शहरों का ही नहीं बल्कि कई देशों में तापमान औसत से ज्‍यादा देखा गया है। संयुक्त राष्ट्र की मौसम एजेंसी World Meteorological Organization (WMO) ने कहा है कि इस वर्ष उत्तरी गोलार्द्ध के तापमान ने अगस्‍त में चार साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है। यहां पर अगस्‍त 2015 के बाद सबसे अधिक तापमान रिकॉर्ड किया गया है।

संगठन की प्रवक्‍ता क्लेयर न्यूलिस ने यूएस नेशनल ओशियनिक एंड एटमोस्‍फेरिक एडमिनिस्‍ट्रेशन (NOAA)के आंकड़ों का हवाला देते हुए बताया है कि वैश्विक स्तर पर अगस्त महीने में दूसरी बार सबसे अधिक तापमान दर्ज किया गया है। ये 20वीं शताब्दी के औसत तापमान 15.6 डिग्री सेल्सियस से .94 डिग्री सेल्सियस ऊपर रहा। आपको बता दें कि उत्तरी गोलार्द्ध (northern hemisphere) में आस्ट्रिया, बेल्जियम, बुल्‍गारिया, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, हंगरी, भारत, जापान, मेक्सिको, नीदरलैंड, नॉर्वे, पोलेंड, रोमानिया, रूस, स्‍पेन, स्‍वीडन, स्विटजरलैंड, ब्रिटेन, यूक्रेन, अमेरिका आता है।

संगठन के मुताबिक अमेरिका के पश्चिमी तटीय इलाके में वर्ष 2020 के दौरान जंगल में लगी भीषण आग का सिलसिला भी रिकॉर्ड स्तर पर रहा है। कैलीफोर्निया के जंगल में लगी आग से लोगों को बचाने के लिए लगभग 16 हजार अग्निशन कर्मचारियों का इस्‍तेमाल किया गया था। न्यूलिस का कहना है इस आग की वजह से अगस्‍त का मौसम बहुत विनाशकारी साबित हुआ है। इसका सबसे अधिक नुकसान कैलीफोर्निया, ओरेगॉन और वाशिंगटन राज्यों को उठाना पड़ा है। इस आग की वजह से बड़े-बड़े इलाके खाक हो गए हैं। इसकी वजह से हजारों लोगों के घर उजड़ गए और कुछ इस आग की चपेट में आकर घायल भी हो गए।

डब्‍ल्‍यूएमओ ने आगाह किया है कि इस भीषण आग की वजह से वायु गुणवत्ता भी खराब हुई है और प्रभावित हुई है और आसमान पर नारंगी रंग का छा गया है। सैटेलाइट से मिली तस्वीरों में पश्चिमी प्रशांत क्षेत्र के ऊपर धुएं के बादल आते हैं जो लगभग 1300 मील यानी 2 हजार 92 किलोमीटर तक फैले हुए थे। इसकी वजह से न्यूयॉर्क के ऊपर भी गर्म कोहरे की एक चादर सी छाई रही। इस धुएं ने सूरज की रोशनी को भी रोक लिया। कैलीफोर्निया के पूर्वोत्तर इलाके का जिक्र करते हुए संगठन की प्रवक्‍ता ने कहा कि ये सबसे खतरनाक स्तर पर दर्ज किया गया है तेज रफ्तार हवाओं और सूखे हालात का मिश्रण था।

विश्व मौसम संगठन के मुताबिक वर्ष 2020 के दौरान अमेरिका में कुल 41599 आग लगने की घटना दर्ज की गईं। इनमें से 36383 घटनाओं के लिए इंसान कहीं न कहीं जिम्‍मेदार था। आग की इन घटनाओं के कारण देश में लगभग ढाई लाख एकड़ के बराबर इलाका खाक हो गया। अकेले कैलीफोर्निया में ही आग लगने की 7072 घटनाएं ऐसी थीं जिनकी वजह इंसान की गलती बनी।

Posted By: Kamal Verma

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस