कैलिफोर्निया, रायटर। ऑकलैंड में कैलिफोर्निया सुपीरियर कोर्ट ने टेरी लीविट नामक एक महिला को 2.9 करोड़ डॉलर (201 करोड़ रुपये) प्रदान करने का आदेश दिया है। महिला का आरोप था कि जॉनसन एंड जॉनसन के टैलकम पाउडर में एस्बेस्टस होने की वजह से ही वह कैंसर से पीडि़त हुई। खास बात यह है कि कंपनी देशभर में टैलकम पाउडर से संबंधित 13 हजार से ज्यादा मुकदमों का सामना कर रही है।

टेरी लीविट ने अपनी याचिका में आरोप लगाया था कि उन्होंने जॉनसन एंड जॉनसन का बेबी पाउडर, शॉवर एंड शॉवर और कंपनी के ही एक अन्य पाउडर का 1960 के बाद करीब 20 साल इस्तेमाल किया था। 2017 में उन्हें मेसोथेलियोमा (एस्बेस्टस से होने वाला कैंसर) से पीडि़त होने का पता चला। सात जनवरी को शुरू हुए इस नौ सप्ताह के मुकदमे में दोनों पक्षों की ओर से करीब दर्जनभर विशेषज्ञों की गवाही हुई। फैसला सुनाने से पहले ज्यूरी ने दो दिन तक इस पर विचार-विमर्श किया।

उधर, कंपनी का कहना है कि वह इस फैसले के खिलाफ अपील करेगी क्योंकि मुकदमे में गंभीर प्रक्रियागत और स्पष्ट खामियां थीं। टेरी लीविट के वकील बुनियादी रूप से यह प्रदर्शित करने में असमर्थ रहे कि कंपनी के बेबी पाउडर में एस्बेस्टस है। हालांकि कंपनी ने मुकदमे दौरान कथित खामियों का और विवरण नहीं दिया।

न्यू जर्सी में द न्यू ब्रंसविक स्थित कंपनी ने इस बात से साफ इन्कार किया कि उसके टैलकम पाउडर से कैंसर होता है। उसका कहना है कि नियामकों द्वारा कराए गए कई अध्ययनों और परीक्षणों से साफ है कि उसका टैलकम पाउडर सुरक्षित और एस्बेस्टस मुक्त है।

बता दें कि इस साल जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ जिन दर्जनभर से ज्यादा मामलों की सुनवाई होनी है, उनमें से यह पहला है।

 

Posted By: Bhupendra Singh