वाशिंगटन, एजेंसियां। अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव की सरगर्मियां अब चरम पर हैं। इस बीच नए राष्ट्रीय सर्वे में बिडेन को मतदाताओं की पसंद के आधार पर आगे बताया गया है। सर्वे में डेमोक्रेटिक प्रत्याशी जो बिडेन अपने प्रतिद्वंदी रिपब्लिकन प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप से 12 पाइंट से आगे बताए गए हैं।

अमेरिका की न्यूज वेबसाइट द हिल ने सीएनएन द्वारा किए गए नए राष्ट्रीय सर्वे में जानकारी दी है कि जो बिडेन को 54 फीसद वोटरों ने पसंद किया है, जबकि ट्रंप को पसंद करने वाले 42 फीसद रहे। अब तक के राष्ट्रीय सर्वे में दोनों के बीच ये सबसे बड़ा अंतर है।

सर्वे में इस बात की संभावना जताई गई है कि मतदान के दिन तक जो बिडेन पिछले चुनाव में डेमोक्रेट प्रत्याशी रहीं हिलेरी क्लिंटन से ज्यादा समर्थन जुटा लेंगे। सर्वे में सीनियर सिटीजन का समर्थन भी बिडेन के साथ ज्यादा देखने को मिला है।

चुनाव प्रचार में बिडेन के द्वारा विभिन्न मुद्दों पर दिए जा रहे विचारों से 55 फीसद वोटरों ने सहमति जताई है, जबकि 42 फीसद वोटर उनके विचारों से असहमत हैं। जबकि ट्रंप के मामले में ये संख्या एकदम उल्टी है।

अमेरिका का सबसे महंगा चुनाव

अमेरिका के चुनावी इतिहास में इस बार का राष्ट्रपति चुनाव सबसे ज्यादा महंगा होने जा रहा है। इस चुनाव में 14 बिलियन डॉलर (लगभग एक लाख करोड़ रुपये) खर्च होने जा रहे हैं। एक रिसर्च ग्रुप सेंटर ऑफ रेसपोंसिव पॉलिटिक्स के अनुसार पिछले चुनावों की तुलना में यह बहुत ज्यादा है। 2016 में 11 बिलियन डॉलर खर्च हुए थे।

ट्रंप, ओबामा और क्लिंटन को दी गई थीं ऑनलाइन धमकी

अमेरिका में एक स्थानीय आतंकी संगठन के कुछ सदस्य मिशिगन के मेयर का अपहरण करने की योजना बना रहे थे। इस ग्रुप के एक सदस्य के ने राष्ट्रपति डोनाल्ड टं्रप, पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और बिल क्लिंटन को ऑनलाइन धमकी दी थी। एफबीआइ ने धमकी देने वाले को गिरफ्तार करने के बाद इस संबंध में अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया है। गिरफ्तार आतंकी डेलावेयर का रहने वाला बेरी क्रोफ्ट है।

डेमोक्रेट प्रत्याशी जो बिडेन ने वोट डाला

चुनाव पूर्व मतदान में डेमोक्रेटिक दल के राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी जो बिडेन ने अपने गृह राज्य डेलावेयर में मतदान किया। बिडेन अपनी पत्नी जिल के साथ थे। यहां पर पति-पत्नी ने स्टेट ऑफिस में बने पोलिंग बूथ पर वोट डाला।

फ्लोरिडा गवर्नर वोट न डाल सके

फ्लोरिडा के गवर्नर रॉन डेसैंटिस इस सप्ताह अपना मतदान नहीं कर पाए। किसी ने उनके ऑनलाइन पते में गैरकानूनी रूप से बदलाव कर दिया था। एक संदिग्ध को इस आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस