वाशिंगटन, प्रेट्र। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कश्मीर को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। कश्मीर पर जयशंकर के इस बयान में पाकिस्तान के नापाक इरादों को बताया गया है। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के भारत के फैसले को एकदम सही कदम बताते हुए जयशंकर ने कहा है कि कश्मीर के लोग इसका लंबे समय से इंतजार कर रहे थे। उन्होंने साथ ही कहा कि पाकिस्तान इससे बौखलाहट में हैं। पाकिस्तान से जैसा कि  उम्मीद है वह इस फैसले के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है क्योंकि कश्मीर में आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान ने इतनी फंडिंग जो कर रखी है।

पाकिस्तान के नापाक इरादों पर अपनी राय रखते हुए उन्होंने बताया कि कश्मीर में भारतीय सुरक्षाबलों ने 5 अगस्त के बाद और अधिक मुस्तैदी बरती है। जयशंकर ने कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि पाकिस्तान कश्मीर में वही करेगा जो वह पिछले कई दशकों से करता आ रहा है।

जयशंकर ने एक शीर्ष अमेरिकी थिंक टैंक द हेरिटेज फाउंडेशन के एक कार्यक्रम में एक सवाल के जवाब में कहा, 'आप पाकिस्तानियों से क्या उम्मीद करते हैं, अगर मौजूदा प्रतिबंध हटने और सामान्य स्थिति बहाल हो जाती है तो..हम शांति और खुशहाली की उम्मीद करते हैं।' जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही हमें आशंका है कि पाकिस्तान वहां कुछ कर सकता है। इसलिए हमने 5 अगस्त से जम्मू कश्मीर में पाबंदियां लागू कर दी थीं। हमें आशंका थी कि पाकिस्तान, कश्मीर पर हमारे फैसले के बाद वही करेगा जो वो पिछले 70 सालों से करता आ रहा है।पाकिस्तान कभी नहीं चाहेगा कि कश्मीर घाटी में शांति और खुशहाली लौटे।

वह पाकिस्तानी की ओर से आई हालिया टिप्पणी पर एक सवाल का जवाब दे रहे थे जिसमें पाकिस्तान की ओर से आरोप लगाया गया था कि भारत, कश्मीर में हालिया सुरक्षा और संचार प्रतिबंध हटाए जाने के बाद किसी भी आतंकी हमले के लिए एक झूठ का सहारा लेगा और हमले के लिए पाकिस्तान को दोषी ठहराएगा।एस जयशंकर ने साथ ही कहा कि भारत ने अगर जम्मू कश्मीर से पाबंदियां हटाईं तो पाकिस्तान, घाटी में आतंकवाद का सहारा लेकर डर का माहौल बनाने की कोशिश करेगा।

इसे भी पढ़ें: दुनिया के कई देशों ने जताई आशंका, पाकिस्तान सीमापार से कर सकता है आतंकी हमला

इसे भी पढ़ें: जानिए अगर भारत और पाकिस्तान में हुआ परमाणु युद्ध तो कितने करोड़ लोगों की जाएगी जान

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप