डेलरे बीच, एपी। अमेरिका में पुलिस हिरासत में एक अश्वेस व्यक्ति की मौत को लेकर चल रहे विरोध प्रदर्शन अब मिनीपोलिस क्षेत्र के बार भी पहुंच गया है । इसी बीच शुक्रवार को  शुक्रवार को दर्जनों अमेरिकी शहरों में अशांति फैल गई, पेंटागन ने सेना को मिनियापोलिस में तैनात करने के लिए कई सक्रिय-अमेरिकी सैन्य पुलिस इकाइयों को तैयार करने का आदेश दिया है। 

उत्तरी कैरोलिना के फोर्ट ब्रैग और न्यू यॉर्क में फोर्ट ड्रम के सैनिकों को आदेशों के प्रत्यक्ष ज्ञान वाले तीन लोगों के अनुसार, चार घंटे के भीतर तैनात करने के लिए तैयार होने का आदेश दिया गया है। कोलोराडो में फोर्ट कार्सन में सैनिकों और कंसास में फोर्ट रिले को 24 घंटे के भीतर तैयार होने के लिए कहा गया है। जिन लोगों ने इसकी जानकारी दी वह तैयारियों पर चर्चा करने के लिए अधिकृत नहीं थे। 

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मिनियापोलिस में सैन्य विकल्पों को चिह्नित करने के बाद मिनियापोलिस में अशांति फैलाने में मदद करने के लिए शहर के कुछ हिस्सों में लूटपाट और आगजनी के बाद पुलिस को तैयाप रहने के आदेश मौखिक रूप से शुक्रवार को भेजे गए थे। ट्रंप ने गुरुवार रात ओवल ऑफिस से एक फोन कॉल पर अनुरोध किया, जिसमें एस्पर, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ 'ब्रायन और कई अन्य शामिल थे।

जानकारी के लिए बता दें कि लोगों द्वारा किए जा रहे विरोध प्रदर्शन में ह्यूस्टन पुलिस विभाग के चार पुलिस अफसर जख्मी हुए हैं और आठ वाहनों को नुकसान हुआ है। कई पुलिसकर्मियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिसकर्मियों पर अस्पतालों में भी हमले किए गए। कई दुकानों को आग के हवालले कर दिया गया।

 वहीं, मिनेपोलिस वो शहर जहां ये हादसा हुआ वहां स्थिति खतरनाक है।  मिनेसोटा के गवर्नर टिम वाल्ज ने शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राज्य के इतिहास में यह लोगों द्वारा किया जा रहा अब तक का सबसे बड़ा प्रदर्शन है।

 

Posted By: Ayushi Tyagi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस