वाशिंगटन, प्रेट्र। अमेरिका ने नियंत्रण रेखा पर शांति और संयम बनाए रखने की अपील करते हुए कहा है कि वह भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर और अन्य मसलों पर सीधी बातचीत का समर्थन करता रहेगा। अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता ने कहा, 'अमेरिका जम्मू-कश्मीर के नए क्षेत्रीय दर्जे और प्रशासन के संबंध में भारतीय कानून पर करीब से नजर रख रहा है। हमने इन घटनाक्रमों से सीमा पर होने वाले असर का भी संज्ञान लिया है जिसमें क्षेत्र में अस्थिरता बढ़ने की संभावना शामिल है।'

प्रवक्ता ने यह भी कहा कि अमेरिका सभी पक्षों से शांति और संयम बनाए रखने की अपील करता है। उन्होंने जम्मू-कश्मीर में लोगों को हिरासत में लिए जाने पर चिंता भी व्यक्त की।

तनाव दूर करने के लिए ईरान ने भी की भारत-पाक वार्ता की वकालत
जम्मू-कश्मीर के संबंध में भारत सरकार के फैसले पर ईरान भी करीब से नजर रख रहा है। ईरानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैय्यद अब्बास मौसावी ने एक बयान जारी कर कहा, 'ईरान को उम्मीद है कि उसके क्षेत्रीय मित्र और साझीदार भारत व पाकिस्तान क्षेत्रीय लोगों के हितों को सुरक्षित रखने के लिए शांतिपूर्ण तरीकों और वार्ता जैसे प्रभावशाली कदम उठाएंगे।'

अमेरिकी सांसदों ने कहा, बदले की कार्रवाई से बचे पाक
अमेरिका के दो डेमोक्रेट सांसदों ने पाकिस्तान से कहा है कि वह भारत के खिलाफ बदले की किसी कार्रवाई से बचे। साथ ही उन्होंने पाकिस्तान से अपनी जमीन पर सक्रिय आतंकी संगठनों के खिलाफ स्पष्ट कार्रवाई करने के लिए भी कहा है। सीनेटर रॉबर्ट मेनेंडेज और सांसद इलियट एंजेल ने एक संयुक्त बयान में जम्मू-कश्मीर में लागू किए गए प्रतिबंधों पर भी चिंता व्यक्त की। मेनेंनडेज सीनेट की विदेशी मामलों की समिति के सदस्य हैं, जबकि एंजेल सदन की विदेशी मामलों की समिति के अध्यक्ष हैं।

बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्‍छेद 370 के प्रावधानों को हटाने का फैसला लिया गया था। साथ ही जम्‍मू कश्‍मीर व लद्दाख को अलग अलग दो केंद्र शासित प्रदेश बनाने का फैसला भी लिया गया। इसके बाद से पाकिस्तान के साथ रिश्‍तों में तनाव आ गया है। पाकिस्‍तान ने इसे संयुक्त राष्ट्र के नियमों का उल्लंघन बताया और भारत के साथ व्‍यापारिक संबंध तोड़ने का फैसला ले लिया।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप