वाशिंगटन, प्रेट्र। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने कहा कि 21वीं सदी में दुनिया का नेतृत्व करने के लिए अन्य देशों की तुलना में अमेरिका बेहतर स्थिति में है। भारतीय मूल के एक सामाजिक कार्यकर्ता को लिखे पत्र में उन्होंने उम्मीद जताई कि हम मिलकर काम करेंगे तो निश्चित रूप से कामयाबी हासिल होगी।

बोस्टन स्थित भारतीय अमेरिकी सामाजिक कार्यकर्ता एवं फेडरेशन आफ इंडियन एसोसिएशन, न्यू इंग्लैंड के अध्यक्ष अभिषेक सिंह को एशियन विरासत माह की बधाई देते हुए बाइडन ने उम्मीद जताई कि एक न्यायपूर्ण, समृद्ध और सुरक्षित राष्ट्र बनाने के लिए अमेरिकी साझा आधार पर काम करेंगे। उन्होंने कहा, 'हमारा देश इस समय कई चुनौतियों का सामना कर रहा है, हमें इसका मिलकर सामना करना है। आज हम जिस रास्ते पर चल रहे हैं, वह इतिहास के सबसे कठिन रास्तों में से एक है। बेहद कठिन समय के बावजूद मैं अमेरिका के भविष्य के लिए पहले कभी इतना आशावादी नहीं रहा।' राष्ट्रपति ने आगे कहा, 'मेरा मानना है कि 21वीं सदी में नेतृत्व करने के लिए हम दुनिया के किसी भी देश से बेहतर स्थिति में हैं, न केवल अपनी शक्ति के परिचय के जरिये, बल्कि अपने मिसाल होने की शक्ति के जरिये भी।'

अभिषेक सिंह फेडरेशन आफ इंडियन एसोसिएशन, न्यू इंग्लैंड के अध्यक्ष हैं। उन्होंने पिछले सप्ताह न्यूयार्क और न्यूजर्सी में एफआईए के साथ वाशिंगटन में 'आजादी का अमृत महोत्सव' के सामुदायिक उत्सव का शुभारंभ किया था, जिसमें सैकड़ों लोगों ने हिस्सा लिया था। अभिषेक सिंह को लिखे अपने पत्र में बाइडन ने सभी अमेरिकियों का राष्ट्रपति बनने का संकल्प जताया। उन्होंने लिखा, 'मुझे विश्वास है कि हम अमेरिका को अधिक न्यायपूर्ण, समृद्ध और सुरक्षित राष्ट्र बनाने की दिशा में साझा आधार खोजने के लिए मिलकर काम कर सकते हैं।' उधर, अमेरिका के गाला में एक भारतीय अमेरिकी लोकतांत्रिक निकाय 'ड्रीम विद एंबिशन' सम्मेलन का आयोजन कर रहा है। बुधवार को आयोजित होने वाले इस सम्मेलन को भारतीय मूल की सांसद प्रमिला जयपाल, रो खन्ना, एमी बेरा व राजा कृष्णमूर्ति संबोधित करेंगे।

Edited By: Monika Minal