वाशिंगटन, प्रेट्र। अमेरिका की महिला सांसद इल्हान उमर के नेतृत्व में 30 सांसदों के समूह ने दुनियाभर में इस्लामोफोबिया बढ़ने की घटनाओं के खिलाफ प्रतिनिधि सभा में विधेयक पेश किया। विधेयक में विदेश मंत्रालय से अपील की गई है कि देशों द्वारा प्रायोजित इस्लामोफोबिया संबंधी हिंसा को अपनी वार्षिक मानवाधिकार रिपोर्ट में शामिल किया जाए। सांसदों ने कहा, विशेष दूत नियुक्त करने से नीति निर्माताओं को मुस्लिम विरोधी कट्टरता की वैश्विक समस्या को समझने में मदद मिलेगी। विधेयक में भारत को मुस्लिमों के खिलाफ कथित अत्याचारों के लिए चीन और म्यांमार की श्रेणी में रखने का प्रावधान है। बता दें कि भारत ने हाल में स्पष्ट किया था कि उसके संविधान में अल्पसंख्यक समुदायों समेत उसके सभी नागरिकों को मौलिक अधिकार दिए गए हैं। भारत जीवंत लोकतंत्र है, जहां संविधान धार्मिक स्वतंत्रता की रक्षा करता है।

Edited By: Nitin Arora