-घटना के विरोध में तृणमूल ने इटाहार बंद बुलाया

-भाजपा ने आरोप को किया खारिज जागरण संवाददाता, उत्तर दिनाजपुर : तृणमूल नेता विकास मजूमदार को सिने में दनादन गोली मारकर हत्या को लेकर इलाके में उत्तेजना का माहौल है। यह घटना उत्तर दिनाजपुर जिले के इटहार थाना के आलग्राम इलाके की है।

पुलिस व स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विकास मजूमदार इटहार थाना से शुक्रवार देर रात को जब बाइक से अपने घर की ओर जा रहा है, तब रास्ते में उन्हें रोककर बदमाशों ने खूब नजदीक से गोली मार दी,जिसमे वह गंभीर रूप से घायल होकर जमीन पर गिर पड़े । गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोग जमा हुए। इतने में सभी हमलावर भागने में कामयाब हो गए। स्थानीय लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस को देने के साथ-साथ घायल विकास मजूमदार को स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र ले गये। लेकिन चिकित्सक ने उनकी गंभीर हालत को देखक रायगंज सुपर स्पेशललिस्ट अस्पताल में रेफर किया, लेकिन चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित किया।

तृणमूल ने इस घटना के पीछे भाजपा समर्थित बदमाशों का हाथ बताया है। हालाकि भाजपा ने आरोप को पूरी तरह से खारिज करते हुए इस घटना से खुद को दरकिनार कर लिया है। भाजपा का कहना है कि यह आपसी गुटबाजी होने का नतीजा है।

दूसरी ओर इटहार पुलिस पूरे मामले की जाच कर रही है एवं हमलावरों की तलाश कर रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

इस हत्या की घटना के विरोध में तृणमूल कांग्रेस की ओर से शनिवार को इटाहार में बंद बुलाया गया। बंद के कारण दुकान-हाट, स्कूल कॉलेज, कार्यालय हर जगह बंद का असर देखा गया।

उत्तर दिनाजपुर जिला तृणमूल अध्यक्ष व विधायक अमल आचार्य ने कहा कि तृणमूल को कमजोर करने की कोशिश की जा रही है। हमारे साथ विकास मजूमदार को भाजपा के इशारे पर भाजपा समर्थित बदमाशों ने बेरहमी से हत्या की है । हत्यारों की गिरफ्तारी की माग को लेकर शनिवार को बंद बुलाया गया।

भाजपा के जिला अध्यक्ष शकर चकवर्ती ने कहा कि इस हत्या काड से भाजपा के किसी भी सदस्य का दूर-दूर तक कोई संबंध नहीं है। यह सब तृणमूल के आपसी गुटबाजी का नतीजा है और तृणमूल की गुटबाजी जगजाहिर है। अपना गुनाह छिपाने के लिए भाजपा तृणमूल को बदनाम कर रही है।

Posted By: Jagran