जागरण संवाददाता, पुरुलिया। पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले में शनिवार देर रात विषाक्त भोजन से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। वहीं, परिवार के तीन लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है। बेहतर इलाज के लिए उन्हें पड़ोसी राज्य झारखंड के बोकारो शहर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

जानकारी के अनुसार, यह घटना पुरुलिया सदर थाना क्षेत्र के विविरबांध पाड़ा में हुई है। पुलिस ने बताया कि मृतकों में 25 वर्ष का विकास गोप, 10 वर्षीय रंजित गोप व 12 वर्षीय रुम्पा गोप शामिल हैं। वहीं, रथु गोप, मंजु गोप और टुम्पा गोप की हालत नाजुक बनी हुई है। तीनों अभी बेहोश हैं। इन्हें बेहतर इलाज के लिए पड़ोसी राज्य झारखंड के बोकारो के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

पुरुलिया जिला पुलिस के अनुसार, घटना के समय सभी पीड़ित घर में ही थे। पुलिस ने प्रारंभिक जांच में रात के समय विषाक्त भोजन करने की आशंका जताई है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिर्पोट आने के बाद ही सही कारणों का पता चलेगा। चूंकि परिवार में अभी ऐसा कोई सदस्य नहीं है, जिससे पूछताछ की जा सके। एक बच्चा है जो कुछ भी बता पाने में असमर्थ है। 

पुलिस और ग्रामीणों ने बताया कि पीड़ित परिवार पुरुलिया जिले के पुंचा थाना क्षेत्र के डाहिरवाड़ी ग्राम का मूल निवासी है। परिवार के मुखिया रथु गोप हैं। यह परिवार पुरुलिया सदर थाना के विविरबांध पाड़ा में एक किराए के मकान में रहता है। रथु गोप पुरुलिया शहर के दुलमी में ठेला पर खाना बेचकर जीवन यापन करते हैं। पुलिस के अनुसार, जीवित लोगों के ठीक होने के बाद पता चलेगा कि घटना की वजह क्या है। पुलिस ने तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए पुरुलिया सदर अस्पताल भेज दिया है।  

Posted By: Sachin Mishra