संवाद सूत्र, मेदिनीपुर : पश्चिम मेदिनीपुर जिला अंतर्गत मेदिनीपुर स्थित जिला मुख्यालय में शनिवार को विश्व दिव्यांग दिवस का पालन किया गया। कार्यक्रम में जिले के विभिन्न भागों से आए करीब 150 दिव्यांगों ने हिस्सा लिया। समाज कल्याण परिषद की ओर से आयोजित कार्यक्रम के संबंध में विभागीय अधिकारी मणिशंकर चटोपाध्याय ने कहा कि जिले की चार संस्थाओं के प्रतिनिधि के रूप में प्रतिभागी शामिल हुए। सभी ने रंगारंग व सांस्कृतिक कार्यक्रम से लेकर विभिन्न ‌र्स्पधाओं में अपनी प्रतिभा का परिचय दिया। दिव्यांगों की प्रतिभा देख लोग मंत्रमुग्ध रह गए। कार्यक्रम के अंत में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वालों को अपर जिलाधिकारी (पंचायत) प्रतिमा दास ने पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया। सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि दिव्यांगों को ले लोगों में धारणाएं बदली है, लेकिन इसमें आमूलचूल परिवर्तन की आ?वश्यकता है। किसी भी प्रकार की प्राकृतिक शक्ति से वंचित दिव्यांग अपने लिए सहानुभूति कतई नहीं चाहते। वे सिर्फ बराबरी का हक चाहते हैं। उन्हें मौका मिले तो वे अपनी प्रतिभा का बखूबी परिचय दे सकते हैं। सभा में दिव्यांगों को मिलने वाली सुख-सुविधाओं के बाबत अधिकारियों ने स्पष्ट किया कि किसी भी प्रकार की समस्या की शीघ्र निस्तारण किया जाएगा। उन्हें किसी प्रकार की परेशानी नहीं होने दी जाएगी।

Posted By: Jagran