-जयदेव सरकार के कार्यालय पहुंचने पर हुआ बवाल का सूत्रपात

-बीडीओ कार्यालय पहुंचते ही पुलिस ने जयदेव को किया गिरफ्तार

संवाद सूत्र, मालदा : पंचायत बोर्ड गठन को लेकर गुरूवार को तृणमूल कांग्रेस व भाजपा के बीच जमकर उठा-पटक हुई। आरोप है कि पुलिस को लक्ष्य करके भाजपा कार्यकर्ताओं ने पत्थरबाजी भी की। यह घटना पुरातन मालदा पंचायत समिति में हुई। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज व आंसू गैस भी छोड़ने पड़े। पुलिस ने तीन भाजपा सदस्य को गिरफ्तार भी किया। गौरतलब है कि पुरातन मालदा पंचायत समिति में कुल 18 सीटों पर चुनाव हुआ था, जिसमें तृणमूल को आठ, भाजपा को आठ और कांग्रेस को दो सीटें मिली थी। कांग्रेस ने तृणमूल को समर्थन करने की घोषणा की थी। संख्या बल के आधार पर तृणमूल ने बोर्ड गठन के लिए बीडीओ कार्यालय आयी। इसी बीच भाजपा के विजयी उम्मीदवार जयदेव सरकार के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। जब जयदेव सरकार बोर्ड गठन के समय पहुंचे, तो पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इसके कारण इलाके में उत्तेजना फैल गयी। पुलिस व भाजपा कार्यकर्ता के बीच संघर्ष शुरू हो गयी। पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ता पर लाठी चार्ज किया और आंसू गैस भी छोड़े। इस मारपीट के बीच तीन फोटोग्राफर भी घायल हुए।

भाजपा के जिला परिषद के सदस्य उज्जवल चौधरी ने बताया कि तृणमूल के इशारे पर पुलिस ने हमारे ऊपर हमला किया। लाठीचार्ज किया। हमारी विजयी उम्मीदवार को गिरफ्तार किया गया, इसलिए ऐसी स्थिति हुई।

वहीं तृणमूल के जिला अध्यक्ष दुलाल सरकार ने बताया कि भाजपा के पास बोर्ड गठन के लिए आंकड़ा नहीं था। इसलिए वह बोर्ड गठन में खलल डाल रही थी। भाजपा माहौल को खराब कर रही है।

कैप्शन : लाठीचार्ज करती पुलिस

Posted By: Jagran