-पुलिस ने अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज किया

संवाद सूत्र, मालदा : जन्माष्टमी के अवसर पर घर में आरती के दौरान असावधानी के कारण गृहवधू की झूलसकर मौत हो गयी। यह घटना भूतनी थाना के ब्रज लाल टोला गांव की है। स्थानीय लोगों ने आग में झूलसी गृहवधू को सोमवार रात को मालदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में भर्ती करवाया। लेकिन चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित किया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने अस्वाभाविक मौत के तहत मामला दर्ज किया है।

पुलिस ने बताया कि मृतका का नाम पातिया मंडल(30) है। गौरतलब है कि रविवार को पातिया के ससुराल में जन्माष्टमी का आयोजन था। सोमवार को भी घर में महोत्सव का माहौल था। शाम को पातिया देव घर में अकेले संध्या आरती कर रही थी। अचानक उसके कपड़े में आग लग गया। परिजन के आते-आते आग उसके पूरे बदन में लग गयी थी। बाद में उसकी मौत हो गयी।

मृतका के आत्मीय पवित्रा मंडल ने बताया कि जब दीदी संध्या आरती कर रही थी, घर के लोग आपस में बाते कर रहे थे। दीदी के चीखने के आवाज सुनकर सभी दौड़े-दौड़े गये। उन्हें फौरन एक कपड़े में लपेटकर उन्हें माणिकचक ग्रामीण अस्पताल ले गये। बाद में उन्हें मालदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में रेफर किया गया। लेकिन चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित किया।

भूतनी थाना की पुलिस ने बताया कि हमने अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज किया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran