-सोशल मीडिया के जरिए अफराजुल के परिजनों को उसके हत्या की मिली जानकारी

-सामूहिक रूप से पिटाई करके अफराजुल को जिंदा जलाया

संवाद सूत्र, मालदा : तीन बेटियों का पिता कैसे किसी के साथ अवैध संबंध बना सकता है? इस लव जिहाद के कारण उसे दूसरे राज्य में पिट-पिटकर जिंदा जला दिया गया। पिछले दो दिनों से सोशल मीडिया पर वाइरल हो रहे वीडियों को देखकर कालियाचक के लोग असमंजस में है। उसकी पत्‍‌नी गुलमोहर बीबी मानने को तैयार नहीं कि उसका पति अफराजुल खान(46) किसी महिला के साथ अवैध संबंध बना सकता है। गौरतलब है कि एक वीडियो में दिखाया जा रहा है कि अफराजुल खान को सामूहिक पिटाई की जा रही है। पास में एक युवती भी है। बाद में लोग अफराजुल खान को जिंदा जला देते है। राजस्थान पुलिस इस घटना को लेकर आरोपी शंभु लाला रेजा को गिरफ्तार कर चुके है। आरोपी शंभु लाला का कहना है कि अफराजुल खान का उसकी बहन के साथ अवैध संबंध था, इसलिए उसे मैंने मार डाला। इस घटना से कालियाचक थाना के सैयदपुर गांव में मातम का माहौल है।

सैयदपुर गांव के निवासियों ने बताया कि इस गांव में महिलाएं बीड़ी बांधने का काम करती है। गांव में रेशम का उत्पादन होता है। गांव के पुरूष काम की तलाश में गुजरात, महाराष्ट्र व राजस्थान जाते है। इस घटना के बाद से लोगों में असुरक्षा की भावना जाग उठी है। बतादें कि मृतक अफराजुल की तीनों बेटियों का विवाह हो चुका था।

अफराजुल की पत्‍‌नी गुलमोहर बीबी ने बताया कि गत 3 नवंबर को अफराजुल राजस्थान के राजसामंड जिला में मजदूरी के लिए गया था। 48 घंटा पहले मेरी उनसे फोन पर बात भी हुई। उसी दिन मुझे सोशल मीडिया तथा राजस्थान के मीडिया के माध्यम से पता चला कि एक व्यक्ति को लव जिहाद के कारण जिंदा जला दिया गया। बाद में पता चला कि वह और कोई नहीं, मेरा पति था। देखकर मुझे विश्वास नहीं होता कि मेरा पति का किसी और युवती के साथ अवैध संबंध हो सकता है। मैं चाहती हूं कि पुलिस आरोपी को कड़ी सजा दे। अफराजुल की बेटी हामिता खातून ने रोते हुए बताया कि मेरे पिता ऐसा नहीं कर सकते। वें बड़े नेक इंसान थे। मेरे पिता को किसी दूसरे कारण से हत्या की गयी है। इस घटना से गांववासी भी सहमे हुए है। कारण इस गांव के बहुत से लोग राजस्थान, गुजरात तथा महाराष्ट्र में जाकर मजदूरी करते है।

सुजापुर केंद्र के कांग्रेस विधायक ईशाखान चौधरी ने बताया कि इस घटना से मैं काफी दुखी हूं। जहां तक मुझे पता है, पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। यदि किसी ने अपराध किया है, तो उसके लिए कानून -पुलिस है। कानून हाथ में लेने का किसी को अधिकार नहीं। देश में कट्टरवादी ताकते सिर उठा रही है। सांप्रदायिक सौहार्द का गला घोंटा जा रहा है। मनुष्य को जाति-धर्म से ऊपर होकर सोचना चाहिए। मानवता से बढ़कर कोई धर्म नहीं।

दूसरी ओर भाजपा के विधायक स्वाधीन सरकार का कहना है कि इस तरह की घटना को हम बर्दास्त नहीं करेंगे। राजस्थान पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। हम चाहते है कि उसे कड़ी से कड़ी सजा मिले।

जिला पुलिस सुपर अर्णव घोष ने बताया कि यह घटना मालदा जिला की नहीं है। इसलिए हम कुछ नहीं कर सकते। हम पूरे मामले को देख रहे है।

By Jagran