राज्य ब्यूरो, कोलकाता : कोलकाता के अलीपुर चिडिय़ाघर में शुक्रवार सुबह एक युवक शेर के बाड़े में घुस गया। शेर ने हमला कर उसे बुरी तरह जख्मी कर दिया। चिडिय़ाघर के कर्मचारियों ने उसे किसी तरह बाड़े से निकाला और एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। युवक की पहचान गौतम गुछाई के रूप में हुई है। वह पूर्व मेदिनीपुर जिले का रहने वाला है। उसने यह कदम क्यों उठाया, अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है। प्रत्यक्षदशियों ने बताया कि शुक्रवार सुबह करीब 10.30 बजे एक युवक बैरियर पार करके शेर के बाड़े में घुस गया और वहां एक पेड़ पर चढ़ गया।

वह जब पेड़ से उतरने की कोशिश कर रहा था, उसी समय शेर ने उसपर हमला कर दिया, जिससे वह बुरी तरह जख्मी हो गया और मदद के लिए चीखने-चिल्लाने लगा। चिडिय़ाघर के कर्मचारियों ने किसी तरह शेर को उसके पिंजरे में घुसाकर उसका दरवाजा बंद किया और फिर युवक को वहां से निकालकर अस्पताल ले गए। चिडिय़ाघर प्रबंधन ने मामले की जांच शुरू की है।

पता किया जा रहा है कि युवक शेर के बाड़े में कैसे घुसा? युवक मानसिक रूप से स्वस्थ है या नशे में था, इसकी भी जांच की जा रही है। उस समय बाड़े के आसपास चिडिय़ाघर के कर्मचारी थे क्या नहीं? अगर थे तो उन्होंने युवक को रोकने की कोशिश क्यों नहीं की? इसकी की जांच की जा रही है। 

----------------

दिल्ली में भी घटी थी दिल दहला देने वाली घटना

इससे पहले दिल्ली के चिडिय़ाघर में भी ऐसी दिल दहला देने वाली घटना घटी थी। एक युवक सफेद बाघ के बाड़े में घुस गया था। बाघ ने उस युवक को खींचकर बेरहमी से मार डाला था। मृतक का नाम मकसूद था। वह करीब 15 मिनट तक बाड़े में जिंदा रहा था। लगभग 10 मिनट तो वह बाघ के सामने हाथ जोड़कर बैठा रहा और जान बख्श देने की भीख मांगता रहा। बाघ ने शुरू में उसपर हमला नहीं किया था। बाड़े के बाहर जमा हुई भीड़ ने शोर मचाना शुरू कर दिया। किसी ने बाघ को पत्थर मार दिया तो बाघ उग्र हो उठा और युवक की गर्दन में दांत गड़ा गड़ाकर उसकी जान ले ली। जांच में पता चला था कि उस युवक की दिमागी हालत ठीक नहीं थी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021