राज्य ब्यूरो, कोलकाताः दिल्ली में नौ साल की एक बच्ची से कथित दुष्कर्म और उसका जबरन अंतिम संस्कार कर दिए जाने की घटना की निंदा करते हुए तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि महिलाएं हर दिन खौफनाक अनुभव का सामना कर रही हैं क्योंकि केंद्र सरकार हालात को बेहतर बनाने के लिए ज्यादा कुछ नहीं कर रही है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए तृणमूल कांग्रेस के डायमंड हार्बर से सांसद ने यह भी कहा कि देश में कानून व्यवस्था की स्थिति चरमरा रही है।

अभिषेक, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे हैं। उन्हें अपनी त्रिपुरा यात्रा के दौरान सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के कड़े विरोध का सामना करना पड़ा था। उन्होंने ट्विटर पर कहा कि श्रीमान अमित शाह की निगरानी के तहत राष्ट्रीय राजधानी में नौ साल की एक बच्ची से कथित तौर पर दुष्‍कर्म किया गया और उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया।’ उन्होंने यह भी जानना चाहा कि क्या दिल्ली के नवनियुक्त पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना अन्य कार्यों में व्यस्त हैं।

टीएमसी सांसद ने कहा,‘अनुसूचित जाति समुदाय की हमारी महिलाओं और लड़कियों द्वारा प्रतिदिन सामना किये जा रहे खौफनाक अनुभव, से केवल यह प्रदर्शित होता है कि गृह मंत्री कितने असंवेदनशील हैं। उन्होंने ट्वीट में कहा कि हाल में दिल्ली के पुलिस आयुक्त नियुक्त किये गये राकेश अस्थाना, जो कि श्रीमान अमित शाह के करीबी सहयोगी हैं- क्या अपने कर्तव्यों के निर्वहन में नाकाम हो गये हैं? या फिर उनकी नियुक्ति कोई और कार्य की देखरेख करने के लिए की गई है?

उल्लेखनीय है कि रविवार शाम दक्षिण पश्चिम दिल्ली में नौ साल की एक दलित लड़की की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो हो गई थी। उसके माता-पिता ने आरोप लगाया था कि उससे दुष्‍कर्म किया गया और उसकी हत्या कर दी गई तथा बाद में उनकी सहमति के बगैर उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस सिलसिले में श्मशान घाट के एक पुजारी सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Edited By: Vijay Kumar