राज्य ब्यूरो, कोलकाता । भारत लगातार दूसरे देशों के साथ समुद्र में सैन्य अभ्यास करने में जुटा है। इसी कड़ी में भारत और बांग्लादेश की नौसेनाओं ने रविवार बंगाल की खाड़ी में सैन्य अभ्यास शुरू किया। भारत और बांग्लादेश की नौसेना के बीच संयुक्त रूप से का चौथा संस्करण 22-23 मई तक उत्तरी बंगाल की खाड़ी में आयोजित किया जा रहा है।

भारतीय नौसेना के स्वदेशी युद्धपोत आइएनएस कोरा और आइएनएस सुमेधा के साथ-साथ बांग्लादेश की नौसेना के युद्धपोत बीएनएस अली हैदर और बीएनएस अबू उबैदाह और दोनों नौसेनाओं के समुद्री गश्ती विमान संयुक्त गश्त में हिस्सा ले रहे हैं। भारतीय नौसेना ने कहा कि अभ्यास में दोनों नौसेनाओं के जहाज, पनडुब्बियां, समुद्री गश्ती विमान, लड़ाकू विमान, हेलीकाप्टर हिस्सा ले रहे हैं।

बांग्लादेश और फ्रांस से पहले भारत और श्रीलंका की नौसेनाओं ने अपने परिचालन सहयोग को बढ़ाने के उद्देश्य से मार्च के महीने में संयुक्त अभ्यास किया था। भारत और बांग्लादेश दोनों देशों के बीच अक्टूबर 2020 में इस प्रकार का आयोजन हुआ था।

दूसरी ओर राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) के पश्चिम बंगाल और सिक्किम निदेशालय के तत्वावधान में एक और दो बंगाल नौसेना इकाई के कैडेट्स का फरक्का से कोलकाता तक गंगा नदी में नौकायन अभियान को रविवार को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। नौकायन अभियान में हिस्सा ले रहे नौसैना एनसीसी के 60 सदस्यीय युवा कैडेटों के दल को सुबह मुर्शिदाबाद जिले में स्थित एनटीपीसी के फरक्का घाट से एनटीपीसी के जीजीएम संजीव कुमार और एक नंबर नौसेना यूनिट एनसीसी, कोलकाता के कमांडिंग आफिसर कमांडर मृणमय नंदी ने गणमान्य लोगों की उपस्थिति में हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

अधिकारियों ने बताया कि 18 दिवसीय इस लंबे नौकायन अभियान में नौसैना से जुड़े कुल 60 युवा कैडेट्स जिसमें 35 लड़के एवं 25 लड़कियां हैं, गंगा नदी में नौकायन करते हुए विभिन्न स्थानों से होकर 410 किलोमीटर की दूरी तय करेंगे। इस अभियान का नौ जून को कोलकाता में हुगली नदी के किनारे मैन आफ वार जेट्टी पर पहुंचने के साथ समापन होगा।कमांडर मृणमय नंदी ने बताया कि तीन व्हेलर्स बोट के साथ अभियान में शामिल कैडेटों का दल फरक्का से जंगीपुर, बहरामपुर, कटवा, नवद्वीप, कालना, चुंचुड़ा व दक्षिणेश्वर होते हुए 410 किलोमीटर की दूरी तय कर कोलकाता पहुंचेंगे। इस दौरान उनके साथ तीन बचाव नौकाएं भी रहेंगी। उन्होंने बताया कि अभियान में शामिल दल रास्ते में नमामि गंगे, स्वच्छ भारत, वृक्षारोपण, पर्यावरण संरक्षण, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जैसे विभिन्न सामाजिक विषयों पर जागरूकता अभियान भी चलाएंगे। 

Edited By: Priti Jha