बैरकपुर, जेएनएन। दुर्गापूजा के महानवमी की देर रात निमता थाना इलाके में दुर्घटनाग्रस्त एक कार से पुलिस ने देवांजन दास (20) की लाश बरामद की थी। मौत के कारणों का अब तक पता नही चल सका है। पुलिस का कहना है कि सड़क हादसे में युवक की मौत हुई है, जबकि मृतक के परिजन पुलिस की बात से सहमत नही हैं। परिजनों का कहना है कि देवांजन की हत्या की गई है। घटना के 9 दिन बाद भी पुलिस उसकी मौत के कारणों में कोई ठोस कारण पता नहीं कर पाई है।

इधर बैरकपुर के पुलिस कमिश्नर मनोज वर्मा शुक्रवार को निमता थाना पहुंचे और दुर्घटनाग्रस्त गाड़ी का मुआयना किया। उन्होंने बताया कि सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर जांच की जा रही है। पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने पर ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचा जा सकता है। निमता थानेदार की भूमिका को लेकर उठ रहे सवाल पर भी उन्होंने जांच का भरोसा दिया है। मृतक के परिजनों का आरोप है कि देवांजन का बीते ढाई माह से प्रेयसी नाम की एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। जबकि प्रेयसी का पहले से एक अन्य युवक से बीते तीन साल से प्रेम प्रसंग संबंध है। परिजनों के अनुसार युवती के प्रथम प्रेमी ने ही देवांजन की हत्या की है।

बता दें कि महानवमी की रात को देवांजन अपनी प्रेमिका को लेकर नाइट क्लब गया था। रात दो बजे वह अपनी प्रेमिका को विराटी के सरदार पाड़ा स्थत उसके घर के सामने छोड़कर लौट रहा था। वापसी के दौरान उसकी कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिसमें उसकी मौत हो गई। आरोप है कि इस घटना को एक साजिश के तहत अंजाम दिया गया है।

पुलिस जहां इसे हादसे में हुई मौत का मामला मान रही है, वहीं घर वालों का कहना है कि गाड़ी में ब्रेक पैडल के पास उन्हें एक कारतूस पड़ा दिखा तथा गाड़ी के भीतर से कारतूस का खोल भी मिला है। इस पर बेटे की हत्या किए जाने का संदेह जताते हुए वे थाना में प्राथमिकी दर्ज कराने पहुंचे। उनका आरोप है कि प्रेमिका का प्रथम प्रेमी ने ही गोली मारकर उनके बेटे की हत्या की है। परिजनों ने मामले में थानेदार की भूमिका पर संदेह व्यक्त करते हुए इसे दबाने की कोशिश करने का आरोप लगाया है।

परिवार के अनुसार राजनीतिक दबाव व मामले के के प्रकाशित होने के बाद पुलिस को शिकायत दर्ज करनी पड़ी। अब तक मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। जिस परिस्थिति में देवांजन का शव गाड़ी से बरामद किया गया है, उसे लेकर भी परिवार के लोगों ने संदेह व्यक्त किया है।

 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप