मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

कोलकाता, जागरण संवाददाता। एक ओर राज्य में व्याप्त समस्याओं के त्वरित समाधान को राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से सीधे संपर्क को 'दीदी को बोलो' विशेष प्रकोष्ठ की स्थापना की गई। जिसके जरिए अब आम लोग भी दिए गए टॉल फ्री नंबर पर फोन कर मुख्यमंत्री को अपनी समस्याओं से अवगत करा रहे हैं।

इधर, जन-जन तक पहुंचने के मकसद से पूरे राज्य भर में होर्डिग व पोस्टर लगाए गए हैं। लेकिन इस बीच एक अन्य पोस्टर सुर्खियां में है और इस पोस्टर में दीदी की जगह 'मां को बोलो' लिखा है।

दरअसल, कुम्हारटोली दुर्गोत्सव समिति द्वारा लगाए गए इस पोस्टर में लिखे 'मां को बोलो' के बारे में पूजा समिति के एक सदस्य ने बताया कि अबकी हम 'कल्पतरु' थीम पर मंडप निर्माण करने जा रहे हैं और ऐसी मान्यता है कि कल्पतरु इंसान की सारी इच्छाएं पूरी करता है और इसका हमारे धर्मग्रंथों में भी वर्णन है।

इसी को ध्यान में रखते हुए हमने 'मां को बोलो' पोस्टर लगाने का निर्णय लिया यानी मां अपने हर बच्चे की विनती सुनेंगी। लेकिन हमारे पोस्टर में कोई टॉल फ्री नंबर नहीं है, बल्कि सीधे मां से संपर्क को पूजा पंडाल में आने का निमंत्रण दिया गया है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप