राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल विधानसभा चुनाव के सातवें चरण के 284 प्रत्याशियों में से 73 के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। इनमें से 60 के खिलाफ बेहद गंभीर आपराधिक मामले हैं। इनमें तृणमूल कांग्रेस व भाजपा के 19-19 और कांग्रेस व माकपा के नौ-नौ प्रत्याशी शामिल हैं। सातवें चरण में 65 करोड़पति प्रत्याशी हैं, जिनमें तृणमूल के 26, कांग्रेस के 11, भाजपा के 13 और माकपा का एक प्रत्याशी शामिल है। सातवें चरण के प्रत्याशियों की औसत संपत्ति 1.22 करोड़ रुपये है। 

तृणमूल के जाकिर हुसैन सातवें चरण में सबसे अमीर प्रत्याशी

मुर्शिदाबाद जिले की जंगीपुर सीट से तृणमूल कांग्रेस प्रत्याशी जाकिर हुसैन सातवें चरण में सबसे अमीर प्रत्याशी हैं। हलफनामे के मुताबिक उनकी कुल संपत्ति 67,22,90,370 रुपये हैं। निवर्तमान विधायक जाकिर हुसैन की संपत्ति में पिछले पांच वर्षों में 39 करोड़ रुपये से अधिक का इजाफा हुआ है। दूसरी तरफ पश्चिम बद्र्धमान की दुर्गापुर पूर्व सीट से बसपा प्रत्याशी सुरेश प्रसाद व इसी जिले की आसनसोल दक्षिण सीट से बहुजन मुक्ति पार्टी की प्रत्याशी शिउली रुईदास सबसे गरीब प्रत्याशी हैं। दोनों की कुल संपत्ति 1,000 रुपये की है। 

143 प्रत्याशी महज पांचवीं से बारहवीं पास 

सातवें चरण में 143 प्रत्याशियों ने अपनी शैक्षिक योग्यता पांचवीं से बारहवीं के बीच बताई है जबकि 134 प्रत्याशियों ने स्नातक व उससे ज्यादा घोषित की है। 

98 प्रत्याशी 25 से 40 वर्ष की उम्र के

सातवें चरण में 98 प्रत्याशी  25 से 40 वर्ष की उम्र के हैं जबकि 139 प्रत्याशियों ने अपनी उम्र 41 से 60 के बीच बताई है। वहीं 47 प्रत्याशियों की उम्र 61 से 80 के बीच है।  सातवें चरण में 37 महिला प्रत्याशी हैं।

Edited By: Vijay Kumar