राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल में विधानसभा चुनाव के बीच भाजपा और सत्तारुढ़ तृणमूल कांगेस (टीएमसी) के बीच खींचतान जारी है। इसी क्रम में अब 12 अप्रैल को कोलकाता से सटे उत्तर 24 परगना जिले के बारासात में होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से पहले एक नया विवाद पैदा हो गया है। भाजपा का आरोप है कि बारासात के जिस कछारी मैदान में पीएम की सभा होनी है, उसमें व्यवधान डालने के लिए टीएमसी ने भी उसी दिन कुछ दूरी पर सभा की योजना बनाई है। साथ ही कछारी मैदान के दो किलोमीटर के भीतर विद्यासागर स्टेडियम में तृणमूल को हेलिकॉप्टर की लैंडिंग की इजाजत मिल गई है।

 प्रदेश भाजपा ने इसपर आपत्ति जताते हुए राज्य चुनाव आयोग से इसकी शिकायत की है। प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष प्रताप बनर्जी और शिशिर बाजोरिया ने इस संबंध में गुरुवार को राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी (सीईओ) को ज्ञापन देकर तृणमूल को जिला प्रशासन की ओर से मिली हेलिकॉप्टर की लैंडिंग की इजाजत को रद करने की मांग की है।

 भाजपा नेता प्रताप बनर्जी ने बताया कि पीएम की रैली के लिए पार्टी को पहले से मंजूरी मिली है। अब तृणमूल को पास के मैदान में हेलिकॉप्टर की लैंडिंग की मंजूरी जिला प्रशासन की ओर से दे दी गई है।

 उन्होंने कहा कि तृणमूल ने जानबूझकर ऐसा किया है और इससे वहां कानून-व्यवस्था की समस्या पैदा हो सकती है। क्योंकि पीएम की रैली में बड़ी संख्या में लोग जुटेंगे और दूसरी ओर तृणमूल ने भी उसी दिन बारासात में सभा बुलाई है, इसीलिए उन्होंने अनहोनी की आशंका जताई है। इसको देखते हुए भाजपा ने चुनाव आयोग से इसपर संज्ञान लेते हुए कार्रवाई की मांग की है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021