राज्य ब्यूरो, कोलकाता । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विजयादशमी के अवसर पर सात नई रक्षा कंपनियों को राष्ट्र को समर्पित किया। केंद्र सरकार ने आर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड को भंग कर ये सात नई रक्षा कंपनियां गठित की है। साथ ही 41 आर्डिनेंस फैक्ट्री को नए स्वरूप में किए जाने का निर्णय किया गया है। इसी क्रम में कोलकाता से सटे उत्तर 24 परगना जिले के इच्छापुर स्थित राइफल फैक्ट्री ईशापुर (आरएफआइ) में भी शस्त्र पूजा का आयोजन किया गया। आरएफआइ के ईशापुर क्लब में आयोजित कार्यक्रम में बैरकपुर से सांसद अर्जुन सिंह, आरएफआइ के महाप्रबंधक (जीएम) दीपक गुप्ता व अन्य अधिकारियों ने शस्त्र पूजा में भाग लिया।‌

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सात नई रक्षा कंपनियों को राष्ट्र को समर्पित करते हुए इस कार्यक्रम को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित भी किया।इस अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट और रक्षा उद्योग संघों के प्रतिनिधि भी उपस्थित रहे। पीएम ने इस दौरान कहा कि रक्षा क्षेत्र में आज जो सात नई कंपनियां उतारी जा रही हैं, वो समर्थ राष्ट्र के उनके संकल्पों को और मजबूती देंगी। इन कंपनियों में पिस्टल से लेकर फाइटर प्लेन तक बनेंगी। सरकार का यह कदम आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत भारत को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में बड़ा कदम माना जा रहा है।

सात नई रक्षा कंपनियां में मुनिशंस इंडिया लिमिटेड (एमआइएल), बख्तरबंद वाहन निगम लिमिटेड (अवनी), एडवांस्ड वेपन्स एंड इक्विपमेंट इंडिया लिमिटेड (एडब्ल्यूइ इंडिया), ट्रूप कम्फर्ट्स लिमिटेड (टीसीएल), यंत्र इंडिया लिमिटेड (वाईआइएली), इंडिया आप्टेल लिमिटेड (आइओएल) और ग्लाइडर्स इंडिया लिमिटेड (जीआइएल) हैं। 

Edited By: Priti Jha