-अब तक सिर्फ कोलकाता पुलिस के कर्मी ही पहनते थे सफेद वर्दी

-पुलिस की वर्दी में नहीं होगा कोई अंतर, सिर्फ अधिकारी पहनेंगे खाकी

.........

राज्य ब्यूरो, कोलकाता : अब तक बंगाल में यह पहचानना आसान था कि कौन सी पुलिस राज्य की है और कौन सी कोलकाता की क्योंकि अंग्रेजों के शासनकाल से ही कोलकाता पुलिस की वर्दी राज्य पुलिस से अलग रखी गई थी। राज्य पुलिस की खाकी व कोलकाता पुलिस की सफेद वर्दी थी लेकिन अब मुख्यमंत्री व गृहमंत्री ममता बनर्जी ने पूरे राज्य की पुलिस की वर्दी को एक ही रंग में रंगने का निर्णय लिया है। दुर्गापूजा से पहले ही राज्य पुलिस के कांस्टेबल से लेकर इंस्पेक्टर रैंक तक के सभी कर्मी सफेद वर्दी में दिखाई दे सकते हैं। हालांकि, खाकी वर्दी की पूरी तरह से विदाई नहीं होगी। इंस्पेक्टर रैंक से ऊपर के सभी अधिकारी खाकी वर्दी ही पहनेंगे।

राज्य पुलिस की वर्दी के रंग को सफेद करने के लिए राज्य सरकार की ओर से प्रस्ताव दिया गया था, जिसपर शुक्रवार को गृह विभाग ने मुहर लगा दी। उक्त प्रस्ताव को स्वीकार करने के साथ-साथ शुक्रवार को राज्य के पुलिस महानिदेशक को गृह विभाग की ओर से पत्र भेज दिया गया है, जिसमें लिखा है कि राज्य पुलिस के कांस्टेबल से लेकर इंस्पेक्टर स्तर तक के पुलिस कर्मियों की वर्दी का रंग बदल जाएगा। सफेद वर्दी के लिए वित्त विभाग की ओर से अब तक कोई फंड आवंटित नहीं किया गया है। उक्त पत्र में यह भी नहीं लिखा है कि कब से वर्दी के रंग में बदलाव किया जाएगा। कुल मिलाकर देखा जाए तो आने वाले समय में राज्य व कोलकाता पुलिस के बीच वर्दी के रंग को लेकर जो अंतर था, वह खत्म हो जाएगा।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सरकारी भवन, फुटपाथ से लेकर पार्क व रोड डिवाइडर व रेंलिंग से लेकर थाना व ब्रिज का रंग पहले ही सफेद-नीला कर चुकी हैं और अब राज्य पुलिस की वर्दी का रंग भी बदलने जा रही हैं।

Posted By: Jagran