-फूलबागान स्टेशन से सुरंग में करीब 13 सौ मीटर तक दौड़ा अत्याधुनिक मेट्रो रैक

-सेक्टर 5 से साल्टलेक स्टेडियम के बीच जुलाई से शुरू हो सकती है सेवा जागरण संवाददाता, कोलकाता : लंबे अर्से के बाद पहली बार ईस्ट वेस्ट मेट्रो ने सुरंग के अंदर नए मेट्रो रैक से अपना ट्रायल रन सफलता पूर्वक पूरा किया। उधर, सबकुछ ठीकठाक रहा तो जुलाई से सेक्टर 5 से साल्टलेक स्टेडियम तक यात्रियों के लिए मेट्रो सेवा को शुरू कर दिया जाएगा। इसके लिए सभी जरूरी कार्यो को तेजी से पूरा किया जा रहा है। शुक्रवार का दिन ईस्ट वेस्ट मेट्रो प्रशासन के लिए एतिहासिक रहा। पूर्वाह्न करीब 11 बजे मेट्रो के अत्याधुनिक नए रैक को ट्रायल के लिए फूलबागान से सियालदह की ओर सुरंग में दौड़ाया गया। रैक में मेट्रो के आला अफसर भी मौजूद रहे। हालांकि करीब 1300 मीटर रैक के दौड़ने के बाद उसके मुंह को वापस फूलबागान की ओर घुमा दिया गया। करीब घंटेभर चले ट्रायल रन के सफल रहने पर अफसरों के चेहरे भी खिल उठे। मेट्रो सूत्रों के अनुसार अत्याधुनिक रैक को यात्री सुविधा एवं सुरक्षा को प्राथमिकता पर रखकर तैयार किया गया है। प्रत्येक कोच को सीसीटीवी से लैस किया गया है। इसके माध्यम से मेट्रो के कंट्रोल रूम से कोचों के अंदर होने वाली गतिविधियों पर सीधे नजर रखी जा सकेगी। इसके अलावा दिव्यांग के लिए व्हील चेयर की भी व्यवस्था रहेगी। खुदकशी की घटनाओं को रोकने के लिए सभी प्लेटफार्म में स्क्रीन डोर लगाए गए हैं। हालांकि यात्रियो की संख्या को देखकर ही तय किया जाएगा की कितने मिनट के अंतर में मेट्रो सर्विस दी जाए। फिर भी चार मिनट के अंतर में मेट्रो सर्विस दिए जाने की संभावना जताई जा रही है। ट्रेन कंट्रोल सिस्टम के जरिए एक दूसरे ट्रेनों के मोटरमैन आपस में संपर्क कर सकेंगे। इससे ट्रेन के विलंब होने की संभावना कम होगी। नए रैक में पुश एंड टॉक सिस्टम की सुविधा रहेगी जिसके माध्यम से आपास स्थिति में यात्री मोटरमैन से संपर्क कर सकेंगे। इसके अलावा नए रैक के प्रत्येक कोच में 43 यात्रियों के बैठने की व्यवस्था होगी जबकि 354 लोग खड़े होकर यात्रा कर सकते हैं। जबकि रैक के प्रथम और अंतिम कोच में 50-50 यात्रियों के बैठने और 323 लोगों के खड़े होने की व्यवस्था होगी। उतरने चढ़ने के लिए दरवाजों को भी चौड़ा रखा गया है। सूत्रों के अनुसार यदि सबकुछ ठीकठाक रहा तो जुलाई से सेक्टर 5 से साल्टलेक स्टेडियम तक ईस्ट वेस्ट मेट्रो सर्विस शुरू हो सकती है। इसके बाद साल्टलेक से फूलबागान तक सर्विस को शुरू किया जा सकता है। साल्टलेक से सुभाष सरोवर तक ईस्ट वेस्ट मेट्रो जमीन के ऊपर चलेगी जबकि फूलबागान से हावड़ा मैदान तक सुरंग के रास्ते मेट्रो का संचालन होगा। इसमें 520 मीटर अकेले ही गंगा के नीचे सुरंग की लंबाई है। कुल मिलाकर 16.5 किलोमीटर मेट्रो का संचालन होगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस