राज्य ब्यूरो, कोलकाता : फेसबुक पर नियमित लाइव होने की वजह से अपने प्रशंसकों के बीच लोकप्रिय तृणमूल कांग्रेस के विधायक मदन मित्रा ने पार्टी नेतृत्व के निर्देश के बाद इंटरनेट मीडिया के मंच से पांच महीने तक विराम लेने की घोषणा की है। इस बाबत उन्होंने फेसबुक पर यह जानकारी दी। मित्रा ने हाल में इंटरनेट मीडिया के माध्यम से पार्टी के कार्य करने की शैली को लेकर शिकायत की थी जिसके बाद उनका यह फैसला आया है।

पश्चिम बंगाल के पूर्व परिवहन मंत्री और तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी के विश्वस्त माने जाने वाले मित्रा ने गुरुवार को फेसबुक लाइव करते हुए कहा, 'मैं आज से 30 जून तक के लिए अपने फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट को निष्क्रिय करने जा रहा हूं'। कमरहाटी से विधायक मित्रा ने कहा, 'नहीं, फेसबुक अधिकारियों से मेरे खिलाफ कोई शिकायत नहीं की गई है …न ही मेरी लोकप्रियता कम हो रही है। मेरी टीआरपी बल्कि बढ़ रही है। लेकिन मैं इस मंच को छोड़ रहा हूं क्योंकि आलाकमान (पार्टी नेतृत्व) ने कुछ समय के लिए फेसबुक को छोड़ने को कहा है। मैं इस आदेश का अनुपालन करूंगा'।

उल्लेखनीय है कि पिछले सप्ताह तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने पार्टी सदस्यों से कहा था कि वे अपनी शिकायतों को लेकर सार्वजनिक बयान और इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट डालने से बचे। उन्होंने यह भी कहा था कि सदस्यों को जरूरत पड़ने पर पार्टी की अनुशासन समिति से संपर्क करना चाहिए।

मित्रा ने इस बयान के कुछ देर बाद ही फेसबुक के माध्यम से पूछा कि अनुशासन समिति दरअसल कहां से काम करती है क्योंकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास स्थित हरीश चटर्जी स्ट्रीट कार्यालय तो सुरक्षा कारणों से ‘पहुंच से दूर’ है और इसके राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ”अखिल भारतीय गतिविधियों”में व्यस्त हैं।

Edited By: Vijay Kumar