संवाद सूत्र, नदिया । भाई दूज पर भाई को तिलक लगाने के लिए मायके जा रही बहन की सड़क हादसे में मौत हो गई है। हादसे में महिला के पति और बेटे की भी मौत हुई है। उक्त घटना नदिया जिले के कालीगंज थानातर्गत जमालपुर में हुआ है। एक तेज रफ्तार अनियंत्रित ट्रक ने बाइक को पीछे से रौंद दिया। मृतकों में पति मंडल (55), दमयंति मंडल (50) और बेटा शुभजीत मंडल (28) शामिल हैं।

मिली जानकारी के अनुसार परिवार स्थानीय थाने का पानीहाटी का निवासी था। हेमंत पेशे से सरकारी कर्मचारी हैं। भाई दूज के मौके पर पत्नी, पति व बेटा संग मोटरबाइक पर सवार होकर मायके जा रही थी। पति बाइक चला रहे थे। वहीं पत्नी व बेटा बाइक की पिछली सीट पर बैठे थे। बताया गया है कि पीछे की दिशा से आ रहे एक तेज रफ्तार ट्रक बाइक को रौंदते हुए आग बढ़ गया। हादसे में हमेंत व उसके बेटे की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि लहूलुहान अवस्था में दमयंति को स्थानीय कृष्णानगर जिला सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे कोलकाता स्थित अस्पताल ले जाया जा रहा था।

इस दौरान बीच रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। इधर घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने ट्रक को जब्त कर लिया। फरार चालक की तलाश की जा रही है। उल्लेखनीय है कि गुरुवार को चापड़ा थानातर्गत बीडीओ कार्यालय के समक्ष ट्रक के चपेट में आकर दो सगे भाइयों की मौत हो गई थी। छोवान ढाकी (30) और सवदूल ढाकी (33) नामक दो भाई साइकिल से काम पर जा रहे थे।

इस दौरान उक्त घटना घटी। इस मामले में भी ट्रक चालक ट्रक को वहीं छोड़ मौके से फरार हो गया। जिले में आए दिन हो रहे सड़क हादसे और इन हादसों में ही रही मौत की घटनाओं से ट्रैफिक पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। दो दिनों में हुए दो मामले में फरार ट्रक चालकों का अब तक कोई सुराग नहीं मिला है। इधर पुलिस का कहना है कि आरोपित ट्रक चालकों की गिरफ्तारी के लिए तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस