कोलकाता, जागरण संवाददाता। ठाकुरपुकुर थाना इलाके में स्थित मॉर्निग ब्लोसम्स प्ले स्कूल में दो साल के बच्चे के यौन उत्पीड़न मामले में उसके परिजनों ने राज्य बाल आयोग की चेयरपर्सन अनन्या चक्रवर्ती से मुलाकात की।

परिजनों ने चेयरपर्सन को एसएसकेएम अस्पताल की जांच रिपोर्ट सौंपकर मामले में तत्काल हस्तक्षेप करने की मांग की है। पीडि़त बच्चे के पिता सुमंत बनर्जी ने बताया कि वारदात को चार दिन बीत चुके हैं, लेकिन मामले में किसी भी दोषी को शिनाख्त कर गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। यहां तक कि मामले की जांच की प्रगति रिपोर्ट की जानकारी भी पुलिस की ओर से नहीं दी गई है। 

प्रबंधन ने वारदात वाले दिन का सीसीटीवी फुटेज मौजूद होने से ही इनकार कर दिया है। ऐसे में राज्य बाल आयोग की चेयरपर्सन का हस्तक्षेप मामले की जांच में तेजी लाने में मददगार साबित होगा। सुमंत ने बताया कि अनन्या चक्रवर्ती ने मामले में हस्तक्षेप के लिए हामी भरी है। वे जल्द मामले में रिपोर्ट तलब करेंगी।

अभिभावकों ने प्रदर्शन कर बंद कराया स्कूल

इधर शुक्रवार सुबह उक्त प्ले स्कूल के खुलते ही भारी संख्या में अभिभावकों ने घटना को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया। दोषियों की जल्द गिरफ्तारी के अलावा स्कूल प्रबंधन पर लापरवाही बरतने का आरोप भी उन्होंने लगाया है।

गत 2 जुलाई को प्ले स्कूल में अंजाम दिए गए इस घिनौने वारदात के बाद शुक्रवार को स्कूल खोलने की कोशिश की गई। स्कूल के एप के जरिए इसकी सूचना सभी बच्चों के अभिभावकों को दी गई थी। इसकी जानकारी मिलने के बाद सुबह स्कूल खुलते ही भारी संख्या में अभिभावकों ने विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया,जिसके कारण स्कूल को फिर बंद करना पड़ा।

 

Posted By: Preeti jha