कोलकाता, राज्य ब्यूरो। केरल में हाल में आई भीषण बाढ़ से मची तबाही ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है। बाढ़ पीडि़तों की सहायता के लिए सरकार से लेकर हर स्तर पर मदद के हाथ बढ़ रहे हैं। आलम यह है कि बाढ़ की विभीषिका को देख कोलकाता के अलीपुर सेंट्रल जेल में बंद एक बुजुर्ग कैदी का दिल भी पसीज गया है।

यहां दशकों पहले कोलकाता के बहूबाजार इलाके में हुए बम ब्लास्ट में उम्रकैद की सजा काट रहे शेख अजीज नामक कैदी ने केरल में बाढ़ राहत के लिए एक लाख रुपये की मदद देने की इच्छा जताई है। खास बात यह है कि ये वो पैसे हैं जो 70 वर्ष से अधिक उम्र के शेख ने जेल में काम करके कमाए हैं।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बाढ़ राहत कोष में यह राशि जमा देने के लिए इस कैदी ने जेल अधिकारी के पास आवेदन भी कर दिया है। इधर, कैदी की इस नेक पहल पर राज्य के जेल विभाग के मंत्री उज्ज्वल विश्र्वास ने कहा कि यह काफी अच्छी चीज है। जैसे ही यह प्रस्ताव मेरे पास आएगा, मैं इसे पास कर दूंगा।

वहीं, जेल अधिकारियों के मुताबिक शेख अजीज केरल से ताल्लुक रखता है। हालांकि यह बात उसने किसी को नहीं बताई। उस राज्य से कोई भी व्यक्ति उससे कभी मिलने नहीं आया। अधिकारी ने बताया कि जेल में कैदियों को उनके काम के मुताबिक 8 घंटे कार्य करने के बदले में 200 रुपये से 280 रुपये तक की मजदूरी मिलती है। अजीज का आवेदन फिलहाल जेल विभाग के आइजी अरुण गुप्ता को भेजा गया है।

कोलकाता के बहूबाजार ब्लास्ट केस में सजा कट रहा है अजीज

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, शेख अजीज को 1993 में कोलकाता के बहूबाजार में मुंबई सीरियल धमाके के बाद ब्लास्ट हुई थी जिसमें दोषी ठहराया गया था। इस ब्लास्ट में 69 लोगों की जानें गई थी। अजीज 25 साल से ज्यादा समय से जेल में है।

नियम के मुताबिक कैदी जो भी जेल में कमाते हैं, उसका आधा हिस्सा उन्हें दे दिया जाता है और आधा उनके बैंक खाते में डाल दिया जाता है। अजीज बैंक खाते वाली राशि को केरल बाढ़ राहत में देना चाहता है। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप