जागरण न्यूज नेटवर्क, खड़गपुर : देश के प्रथम उप राष्ट्रपति, द्वितीय राष्ट्रपति व प्रख्यात शिक्षाविद् डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती के अवसर पर बुधवार को पश्चिम मेदिनीपुर व पूर्व मेदिनीपुर जिले में भी शिक्षक दिवस का पालन किया गया। इस अवसर पर विभिन्न शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक संस्थाओं द्वारा कार्यक्रम आयोजित कर डॉ. राधाकृष्णन को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। कई संस्थाओं द्वारा शिक्षकों का सम्मान भी किया गया। खड़गपुर अंतर्गत म¨लचा रोड स्थित निजी शैक्षणिक संस्थान सरस्वती विद्या मंदिर शिक्षक दिवस समारोह में संस्थान के निदेशक ललित गुप्ता समेत संस्थान से जुड़े तमाम शिक्षक-शिक्षिकाएं मौजूद रहीं। डॉ. राधाकृष्णन एवं मां सरस्वती की तस्वीरों पर पुष्प अर्पित कर समारोह की शुरुआत की गई। कार्यक्रम के दौरान जहां संस्थान के शिक्षक-शिक्षिकाओं का सम्मान किया गया, वहीं शहर के अन्य स्कूलों एवं शैक्षणिक संस्थानों से जुड़े सुरेश पांडेय, चंदन, मुन्नालाल, राजेश, राज आदि 15 शिक्षकों का भी सम्मान किया गया। संस्थान से जुड़ीं ¨पकी, श्रद्धा, सुप्रिया, ¨रकू, अभिषेक, काजल, साक्षी, हरदीप आदि शिक्षक-शिक्षिकाओं ने डॉ. राधाकृष्णन एवं शिक्षक दिवस पर अपने-अपने विचार प्रकट कर उनके प्रति श्रद्धा व्यक्त की। अतिथि शिक्षकों ने शिक्षक दिवस की महत्ता का बखान करते हुए कहा कि आज का दिन एक शिक्षक के लिए महत्वपूर्ण दिन होता है। हर शिक्षक की इच्छा होती है कि वह भी डॉ. राधाकृष्णन, डॉ. कलाम आदि महान शिक्षाविदों की राह पर चलते हुए विद्यार्थियों का मार्गदर्शन करे। उन्होंने कहा कि शिक्षा जीवन जीने का तरीका सिखाती है। किसी भी क्षेत्र में पूर्णता प्राप्त करने के लिए दिन-रात मेहनत करने की जरूरत होती है। शिक्षा ही एकमात्र ऐसा जरिया है, जिसके माध्यम से व्यक्ति के जीवन में परिवर्तन आता है। शिक्षा क्षेत्र कोई पेशा नहीं, बल्कि सेवा है। इसलिए एक शिक्षक का ईमानदार होना अति आवश्यक है। ललित गुप्ता ने कहा कि संस्थान द्वारा इस वर्ष 12वां शिक्षक दिवस समारोह का आयोजन किया गया है, जिसमें शिक्षकों के योगदान को ध्यान में रखते हुए सम्मान किया गया। दूसरी ओर पूर्व मेदिनीपुर जिला अंतर्गत तमलुक के सालगछिया में जिला प्राथमिक व माध्यमिक शिक्षा विभाग एवं पूर्व मेदिनीपुर जिला परिषद के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित समारोह में 58 शिक्षक-शिक्षिकाओं के साथ ही माध्यम, उच्च माध्यमिक व हाई मदरसा के मेधावी विद्यार्थियों को भी सम्मानित किया गया। समारोह में प्रदेश के परिवहन मंत्री शुभेंदु अधिकारी, सांसद शिशिर अधिकारी व दिव्येंदु अधिकारी के अलावा डीआइ अमीनुल अहसान, पूर्व जिप अध्यक्ष मधुरिमा मंडल आदि मौजूद रहीं, वहीं सूताहाटा बाबूपुर एग्रिकल्चर हाईस्कूल में आयोजित समारोह में शिक्षकों ने शिक्षक दिवस के साथ शिक्षार्थी दिवस का पालन करते हुए 935 विद्यार्थियों का सम्मान किया। कार्यक्रम में शिक्षक प्रभारी अमित खाड़ा आदि मौजूद रहे। नंदीग्राम असदतला विनोद विद्यापीठ के शिक्षक-विद्यार्थियों ने केरल के बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए एकत्र किए गए 30 हजार रुपये की राशि मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कर शिक्षक दिवस का पालन किया।