कोलकाता, [जागरण संवाददाता]। कोलकाता मेट्रो की छह विस्तार परियोजनाओं का काम वर्ष 2019 तक पूरा हो जाएगा। कोलकाता मेट्रो के नए चेयरमैन अजय विजयवर्गीय ने सोमवार को भारतीय उद्योग महासंघ (सीआइआइ) की ओर से आयोजित परिचर्चा में ये भरोसा दिया।

उन्होंने कहा-' नोआपाड़ा-बरानगर-दक्षिणेश्वर (3.93 किलोमीटर) रूट का काम 2019 के जून तक पूरा होने की बात है। जोका-माजेरहाट ( 9 किलोमीटर) रूट का काम भी उस साल दिसंबर तक पूरा करने की योजना है। इसी तरह नोआपाड़ा-एयरपोर्ट-बारासात प्रोजेक्ट (5.3 किलोमीटर) को भी 2019 तक पूरा करने का लक्ष्य तय किया गया है। 16.55 किलोमीटर लंबी ईस्ट-मेट्रो परियोजना सबसे चुनौतीपूर्ण कार्यों में से एक है। इस परियोजना के सेक्टर-5 -फूलबगान रूट (6 किलोमीटर) काम अगले साल जून तक पूरा हो जाएगा।' विजयवर्गीय ने अतिक्रमण हटाने में राज्य सरकार की ओर उठाए गए कदमों की प्रशंसा की, हालांकि ये भी कहा कि अभी भी कुछ बाधाओं को दूर करना जरुरी है। उन्होंने बताया-'कमरहट्टी नगरपालिका में नोआपाड़ा-बरानगर-दक्षिणेश्वर रूट के लिए 50 झोपडि़यों को हटाया गया है। बाकी को एक माह के अंदर हटाने की उम्मीद की जा रही है।'

उन्होंने सूचित किया कि कोलकाता मेट्रो के लिए चीनी एवं आइसीएफ रेक आ रहे हैं। उनमें सीसीटीवी कैमरे भी लगे होंगे। यात्रियों की सुरक्षा के लिए गतिविधियां बढ़ाई जाएंगी। इस मौके पर पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक हरींद्र राव ने कहा कि सुरक्षा रेलवे की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इस बाबत रेलवे में काफी काम किया जा रहा है। बजट आवंटन भी बढ़ाया गया है। निजी क्षेत्र के सामने रेलवे के साथ काम करने का बड़ा मौका है। ये सभी के लिए जीत जैसी स्थिति होगी। रेलवे की समस्त प्रक्रिया में पूरी पारदर्शिता बरती जा रही है। 3-4 साल पहले की तुलना में अब सारी चीजें अधिक पारदर्शी एवं सहज हुई हैं।

यह भी पढ़ें: बंगाल में डेंगू का कहर जारी, हावड़ा स्टेशन में मच्छर का लार्वा मिलने से हड़कंप

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021