राज्य ब्यूरो, कोलकाता। 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर इस बार बंगाल पुलिस के कुल 22 अधिकारियों और कर्मियों को विशिष्ट व सराहनीय सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक से नवाजा गया है। इनमें राष्ट्रपति के विशिष्ट सेवा पुलिस पदक (पीपीएम) से दो अधिकारियों एडीजी जावेद शमीम व एएसआइ शिव प्रसाद मुखर्जी को सम्मानित किया गया है। बाकी 20 अधिकारियों व कर्मियों को सराहनीय सेवाओं के लिए पुलिस पदक (पीएम) मिला है।

वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी जावेद शमीम बंगाल पुलिस के मुख्यालय भवानी भवन में एडीजी पद पर तैनात हैं। वहीं, सहायक पुलिस निरीक्षक (एएसआइ) शिव प्रसाद मुखर्जी बैरकपुर स्थित राज्य पुलिस अकादमी के आर्म्ड ब्रांच में तैनात हैं। वहीं, सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक से सम्मानित होने वालों में आइजी आइपीएस सुनील कुमार चौधरी, एसीपी (कोलकाता पुलिस) धीरेंद्र सिंह, डीएसपी शंकर प्रसाद घोराई, इंस्पेक्टर स्वरूप कांति पहाड़ी, इंस्पेक्टर अचिंत्य सरकार, इंस्पेक्टर संपति बनर्जी, इंस्पेक्टर नीलमणि नंदी, डीसीपी उज्जवल हाजरा, कांस्टेबल विश्वजीत राय, कांस्टेबल अमल मलिक, नायक सुबेदार अरुण कुमार तमांग, एएसआइ बुलू सेनापति, एएसआइ असिम कुमार साहा, एएसआइ रथींद्र नाथ भौमिक, एसआइ तपन राय, एसआइ अमर चंद्र धीवार, एएसआइ स्वपन कुमार हुदाइत, इंस्पेक्टर बासुदेव सरकार, कांस्टेबल पूर्णिमा घोष, कांस्टेबल शंकर मजूमदार का नाम शामिल है। ये सभी बंगाल व कोलकाता पुलिस में अलग-अलग जगहों पर तैनात हैं।

बता दें कि हर साल गणतंत्र दिवस व स्वतंत्रता दिवस के मौके पर वीरता समेत विशिष्ट व सराहनीय सेवाओं के लिए सशस्त्र बलों व पुलिस के वीर जवानों व अधिकारियों को सम्मानित किया जाता है। इस बार गणतंत्र दिवस पर पूरे देशभर से 901 पुलिस कर्मी राष्ट्रपति पदक से सम्मानित किए गए हैं। इसमें 140 जवानों को वीरता के लिए पुलिस पदक (पीएमजी), 93 को विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक (पीपीएम) और 668 को सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक (पीएम) से सम्मानित किया गया है।

यह भी पढ़ें: Fact Check: धीरेंद्र शास्त्री को Z+ सिक्योरिटी दिए जाने का बीबीसी के ट्वीट का स्क्रीनशॉट फेक है

यह भी पढ़ें: घने कोहरे वाले दिन 154% तक बढ़ेंगे, क्लाइमेट चेंज के चलते उत्तर भारत में बढ़ेगी मुश्किल

Edited By: Devshanker Chovdhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट