राज्य ब्यूरो, कोलकाता। Coronavirus. कोरोना वायरस से लड़ने के लिए बंगाल में उठाए जा रहे कदमों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ फोन पर चर्चा की। खबर है कि अब तक बंगाल सरकार ने जो कदम उठाए हैं, उसकी पीएम ने सराहना की। अब तक बंगाल में कोरोना संक्रमित रोगियों की संख्या 15 हो चुकी है। शुक्रवार की रात पीएम मोदी ने खुद बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से फोन पर बात की और प्रदेश के हालात के बारे में जानकारी ली। पीएम मोदी ने इस बातचीत के दौरान कोविड-19 को फैलने से रोकने में राज्य सरकार के कदमों को बेहतर बताया। मुख्यमंत्री के करीबी सूत्रों ने यह जानकारी दी।

सूत्रों ने बताया कि मोदी ने बातचीत के दौरान राज्य में मौजूदा हालात पर लंबी चर्चा की। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन के दौरान नागरिकों की मदद के लिए तृणमूल सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की प्रशंसा की। आर्थिक पैकेज के लिए ममता ने भी पीएम मोदी को धन्यवाद दिया।

अमित शाह और विदेश मंत्री ने भी की ममता से बात कर दिया सहयोग का भरोसा

सूत्रों के अनुसार पीएम व सीएम की बातचीत करीब दस मिनट चली। प्रधानमंत्री के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भी ममता से बात की और राज्य की स्थिति की जानकारी ली। साथ ही हर तरह के मदद का भरोसा दिया। शाह ने ममता से कहा कि संपूर्ण लॉकडाउन में किसी भी क्षेत्र केंद्रीय बल की जरूरत महसूस हुई तो अवश्य कहें तत्काल केंद्रीय बल भेजा जाएगा। दरअसल पीएम मोदी कोरोना मामले को लेकर अपने कैबिनेट के हर मंत्री को एक-एक राज्य का दायित्व दे रखा है जो लगातार राज्य सरकारों के संपर्क में रहते हैं। जयशंकर को बंगाल का दायित्व मिला हुआ है।

फर्जी खबर को लेकर सख्ती

शुक्रवार को ही ममता बनर्जी ने राज्य सचिवालय में कोरोना से निपटने के इंतजामों की समीक्षा की थी। ममता ने इस दौरान संवाददाता सम्मेलन में प्रदेश में कोरोना के बारे में फेक न्यूज फैलाने वाले तत्वों पर कड़ी कार्रवाई की बात कही थी। ममता ने यह भी कहा कि आम लोग कोविड-19 को लेकर फर्जी जानकारी पोस्ट या साझा न करें क्योंकि ऐसा करने वालों को दंडित किया जाएगा। 

बंगाल की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस