-कहा, भरोसा करने वाली जनता को दिया धोखा

-इस बार दीदी का बचना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है

जागरण संवाददाता, कोलकाता : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा उम्मीदवारों के प्रचार में बुधवार को पश्चिम बंगाल में दो जनसभाओं को संबोधित किया। इस दिन उन्होंने नदिया जिले के ताहेरपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी को एक नया नाम 'स्टिकर दीदी' दिया। इसके पहले उन्होंने ममता को स्पीड ब्रेकर कहा था। पीएम मोदी ने कहा कि ममता दीदी स्पीड ब्रेकर तो हैं ही वह स्टिकर दीदी भी हैं। क्योंकि केंद्र सरकार की मदद से चलने वाली योजनाओं पर वह अपना स्टिकर लगा देती हैं ताकि उन्हें कोई मेहनत नहीं करनी पड़े। पीएम मोदी ने कहा कि अब दीदी का बचना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। क्योंकि भाजपा के साथ बंगाल की जनता दीदी के विरोध में मैदान में खड़ी है। मोदी ने कहा कि वर्ष 2009 में चुनाव के दौरान यही दीदी पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग कर रही थीं। सेना की तैनाती में चुनाव कराने की मांग कर रही थीं, आज वही दीदी हमारी सेना पर लांछन लगान रही हैं। कम्युनिस्ट के अत्याचार से मुक्त कराने के लिए राज्य की जिस जनता ने ममता बनर्जी पर आंखें बंद कर भरोसा किया, उसी जनता को दीदी ने धोखा दिया। दीदी ने चोला बदला, नारा बदला, निशान बदला लेकिन काम वहीं किया जो कम्युनिस्ट ने किया। जिसने सम्मान दिया, मान दिया उसी को ममता ने धोखा दिया। मोदी ने कहा कि हकीकत को बड़े दुख से कहना पड़ रहा है। पीएम मोदी ने 'गुंडों के लिए ममता और जनगण के लिए निर्ममता' कहकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ता बम, बंदूक से डरने वाले नहीं हैं। किसी में दम नहीं कि भाजपा कार्यकर्ताओं को डरा पाए। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रक्रिया में लगे कर्मियों, भाजपा कार्यकर्ताओं को डरने की जरूरत नहीं है। पश्चिम बंगाल की जनता उनके साथ खड़ी है। देश का हर चौकीदार उनके साथ खड़ा है। ठीक एक माह बाद फिर एक बार मोदी सरकार होगी। चिटफंड के जरिए गरीबों को लूटने वालों को कहीं जगह नहीं मिलेगी। नारदा, सारधा एवं रोजवैली कांड के आरोपियों को छोड़ा नहीं जाएगा। नागरिकता कानून बनकर रहेगा। इसके तहत शरणार्थियों को नागरिकता दी जाएगी। एनआरसी के जरिए सभी घुसपैठियों की पहचान की जाएगी और पश्चिम बंगाल के लोगों के हक पर अवैध रूप से कब्जा करने वालों को सही जगह पहुंचाया जाएगा। कभी घुसपैठियों को रोकने की संसद में मांग करने वाली ममता आज घुसपैठियों की सबसे बड़ी रक्षक हुई हैं। पीएम मोदी ने कहा कि दीदी के देशविरोधी मनसूबे को देश की जनता कभी पूरा नहीं होने देगी। मोदी ने दिल्ली में मजबूत सरकार बनाने के लिए कमल फूल के बटन को दबाने की जनता से अपील की। उन्होंने कहा कि आजादी के 75वें वर्ष 2022 में देश के सभी गरीब परिवारों का अपना पक्का मकान होगा। पीएम मोदी ने इसके पहले वीरभूम जिले के बोलपुर में जनसभा को संबोधित किया।

Posted By: Jagran