कोलकाता, जागरण संवाददाता। कोलकाता की सड़कों पर बड़ी संख्या में लगाई जाने वाली होर्डिंग्स की निगरानी के लिए नया मोबाइल एप्लीकेशन विकसित किया जाएगा। शुक्रवार को यह जानकारी नगर निगम की ओर से दी गई है। बताया गया है कि मोबाइल ऐप के जरिए अवैध होर्डिंग्स को ट्रेस करने में मदद मिलेगी जिसके बाद नगर निगम की टीम ऐसे हार्डिंग्स को उतारेगी।

निगम की ओर से मिली जानकारी के अनुसार मोबाइल एप्लीकेशन विकसित करने का काम शुरू कर दिया गया है। बताया गया है कि होर्डिंग्स को ट्रैक करने का मुख्य मॉनिटर कक्ष नगर निगम के मुख्य प्रबंधक के कक्ष में होगा। पूरे कोलकाता में लगाई गई होर्डिंग्स की गणना की जाएगी और जो भी अवैध होंगे उन्हें तुरंत उतार दिया जाएगा।

उल्‍लेखनीय है कि कोई भी निवासी एप्लीकेशन को डाउनलोड करके होर्डिंग्स को ट्रैक करने में सक्षम होंगे और यदि उन्हें किसी हार्डिंग को लेकर कोई संदेह है तो वे तुरंत नागरिक अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं। नागरिक निकाय विज्ञापन फर्मों को एलईडी या कैनवास होर्डिंग्स पर शिफ्ट करने के लिए भी कहेंगे क्योंकि फ्लेक्स के कारण दृश्य प्रदूषण होता है और तूफान के दौरान गिरने पर बड़ी दुर्घटना हो सकती है।

इसके अलावा यह भी निर्णय लिया गया है कि केएमसी उन होर्डिंग्स को हटा देगा जिन्हें हेरिटेज संरचनाओं के सामने लगाया गया है। इसके साथ ही केएमसी शहर में पार्किंग ज़ोन में वाहनों की पार्किंग को ट्रैक करने के लिए भी एक समान ऐप विकसित करने पर भी विचार कर रहा है।  

Posted By: Preeti jha