वीरभूम, जागरण संवाददाता। Misbehavior With Girl. बीते वर्ष आदिवासी नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म की घटना के बाद सुर्खियों में रहा मोहम्मद बाजार एक बार फिर चर्चा में आ गया है। फोन पर हुए परिचय के प्रेम प्रसंग में तब्दील होने के बाद प्रेमी के बुलावे पर मिलने पहुंची झारखंड की युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि मुख्य आरोपित फरार है। पुलिस ने चिकित्सीय परीक्षण कराने के बाद अदालत में पीड़िता के कलमबंद बयान भी दर्ज कराए।

सूत्रों के अनुसार, झारखंड की एक युवती का फोन पर वीरभूम के मोहम्मदबाजार थाना क्षेत्र निवासी एक युवक के साथ परिचय हुआ था। धीरे-धीरे दोनों के बीच प्रेम प्रसंग हो गया था। युवती उससे मुलाकात करना चाहती थी। इस मौके को हाथ से नहीं जाने देने की सोच युवक ने फोन कर मिलने के लिए युवती को बुला लिया। रविवार शाम युवती मोहम्मद बाजार जा पहुंची। आरोप है कि वहां से युवक अपनी बाइक में बैठाकर सेकड्डा इलाके में गनपुर जंगल के पास एक ट्यूबवेल में ले जाकर उसने दुष्कर्म किया फिर वहां मौजूद उसके तीन दोस्तों ने रातभर उसके साथ शारीरिक अत्याचार किया। इसके बाद चारों वहां से फरार हो गए। सुबह होश आने पर पीड़िता ने थाने पहुंचकर घटना की जानकारी दी। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर मनीरउद्दीन शेख, निजामुद्दीन शेख तथा नीलमाधव मिर्धा नामक तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने चारों आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर फरार मुख्य आरोपित की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस ने पीड़िता का चिकित्सीय परीक्षण कराकर सोमवार को सिउड़ी अदालत में उसके कलमबंद बयान दर्ज कराए।

गौरतलब है कि बीते वर्ष दिसंबर में मोहम्मद बाजार इलाके में ही प्रेमी और उसके तीन दोस्तों ने आदिवासी नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था। पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया था।

बंगाल की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस