राज्य ब्यूरो, कोलकाता। बंगाल में इस 16 अगस्त से हर साल मनाए जाने वाले 'खेला होबे दिवस' से पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज औपचारिक रूप से इस कार्यक्रम को लांच करेंगी। कोलकाता के नेताजी इनडोर स्टेडियम में शाम 4:00 बजे से आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री इसे लांच करेगी। इस मौके पर ममता भारतीय फुटबॉल संघ से संबद्ध 303 क्लबों को 10- 10 फुटबॉल भी प्रदान करेंगी। इसके साथ ही खेल के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए बच्चों और युवाओं के बीच इस दिन 3300 फुटबॉल बांटे जाएंगे।

इस फुटबॉल पर 'जयी फुटबॉल' लिखा होगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री कई पूर्व व वरिष्ठ खिलाड़ियों को सम्मानित भी करेंगी। राज्य सरकार की ओर से कहा गया है कि कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए इस कार्यक्रम का आयोजन होगा। राज्य के खेल व युवा विभाग ने 'खेला होबे दिवस' के उपलक्ष्य में एक लाख फुटबॉल वितरित करने की योजना बनाई है।

गौरतलब है कि हाल में संपन्न बंगाल विधानसभा चुनाव में 'खेला होबे' का नारा काफी लोकप्रिय हुआ था। ममता व तृणमूल कांग्रेस ने अपने चुनाव प्रचार व रैलियों में जमकर इस नारे का इस्तेमाल किया था। विधानसभा चुनाव में मिली प्रचंड जीत के बाद पार्टी सुप्रीमो व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीते 21 जुलाई को शहीद दिवस कार्यक्रम के मौके पर इसके नाम पर हर साल 16 अगस्त को 'खेला होबे दिवस' के रूप में ही मनाने की घोषणा की थी।  दरअसल चुनाव में सफलता के बाद सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस इस नारे को पूरे देशभर में भुनाना चाहती है। हालांकि राज्य में मुख्य विपक्षी भाजपा खेला होबे दिवस का विरोध कर रही है।

भाजपा ने 'खेला होबे दिवस' के विरोध में 16 अगस्त को बंगाल बचाओ दिवस मनाने की पहले ही घोषणा की है। इसके साथ ही भाजपा बंगाल बचाओ सप्ताह का भी नौ अगस्त से पालन करेगी। भाजपा का कहना है कि खेला नहीं, युवाओं को रोजगार चाहिए। इसी स्लोगन के साथ भाजपा बंगाल बचाओ सप्ताह का पालन करेगी। 

Edited By: Priti Jha