जागरण संवाददाता, कोलकाता। तृणमूल प्रमुख व पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 2019 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर शनिवार को हुए सपा-बसपा महागठबंधन का स्वागत किया है। सुश्री बनर्जी ने ट्वीट किया, 'मैं आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सपा और बसपा के बीच हुए गठबंधन का स्वागत करती हूं'। 

गौरतलब है कि भाजपा पर हमेशा मुखर रहने वाली तृणमूल प्रमुख ममता भाजपा विरोधी विपक्षी खेमे को लामबंद करने में जुटी हुई हैं। इसके लिए बीते एक सालों में उन्होंने देश भर के विभिन्न हिस्सों का दौरा किया है और अलग-अलग राजनीतिक दलों के प्रमुखों से मिली हैं। इससे पहले सुश्री बनर्जी ने यह सुझाव दिया था कि उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा साथ आए तो भाजपा को उत्तर भारत में कड़ी टक्कर मिलेगी।

उन्होंने कहा था कि यूपी संसद के निचले सदन को 80 सांसद देता है जो की राष्ट्रीय राजनीति के लिए काफी महत्वपूर्ण है। इससे पहले अखिलेश यादव जब कोलकाता आए थे तो उन्होंने ममता के कालीघाट स्थित आवास पर जाकर मुलाकात की थी। अखिलेश ने तब कहा था कि उनकी दीदी के साथ हुई मुलाकात में भाजपा विरोधी गठबंधन के बाबत बातचीत हुई है। 

बता दें कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती ने शनिवार को लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर महागठबंधन की घोषणा की। मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश की कुल 80 लोकसभा सीटों पर सपा और बसपा 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। हालांकि इस गठबंधन से कांग्र्रेस को अलग रखा गया है। हालांकि दोनों दलों ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के प्रतिनिधित्व वाले अमेठी और रायबरेली में उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है।  

Posted By: Preeti jha