कोलकाता, (पीटीआई)। जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में मंगलवार को आतंकी हमले में पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले के रहने वाले पांच मजदूर मारे गए। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को कहा कि कश्मीर में आतंकी हमलों में मारे गए मुर्शिदाबाद जिले के पांच श्रमिकों के परिवारों को सभी तरह की मदद की जाएगी। ममता बनर्जी ने जम्‍मू कश्‍मीर में हुए इस दुखद घटना पर दुख व्यक्त किया है। 

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘कश्मीर में नृशंस हत्याओं से हम स्तब्ध और अत्यंत दुखी हैं। मुर्शिदाबाद के पांच मजदूरों ने वहां अपनी जान गवां दी कोई भी सांत्वना मृतक के परिवारों के दुख को दूर नहीं कर सकता। ममता बनर्जी ने कहा कि दुख की इस घड़ी में उनके परिवारों को सभी तरह की मदद दी जाएगी।’ 

जानकारी हो कि जम्मू-कश्मीर में कल [मंगलवार] को आतंकियों ने पांच गैर कश्मीरी श्रमिकों को गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतार दिया। एक अन्य गंभीर रूप से घायल है। मारे गए सभी श्रमिक पश्चिम बंगाल के सागर डिग्ग्ी, मुर्शिदाबाद के रहने वाले हैं।

कुलगाम से मिली सूचना के अनुसार, मंगलवार शाम को स्वचालित हथियारों से लैस पांच से छह आतंकी कतरस्सु गांव में दाखिल हुए। उन्होंने गांव के बाहरी छोर पर रह रहे गैर कश्मीरी श्रमिकों के डेरे में घुसकर श्रमिकों पर अंधाधुंध गोलियों की बौछार कर दी। गोलियां लगते ही छह श्रमिक जमीन पर गिर पड़े। उन्हें मरा समझ आतंकी वहां से चले गए। आतंकियों के जाने के बाद आसपास मौजूद ग्रामीणों ने सेना व पुलिस को सूचित करते हुए खून से लथपथ पड़े सभी श्रमिकों को निकटवर्ती अस्पताल पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने पांच श्रमिकों को मृत घोषित कर दिया। एक श्रमिक जहीरूदीन की नाजुक हालत को देखते हुए उसे उपचार के लिए श्रीनगर के अस्पताल लाया गया है। उसकी बाजू व टांगों में गोलियां लगी हैं। मृतकों की पहचान समरूद्दीन, शेख मोहम्मद रफीक, नसीमुद्दीन, रफीक उल शेख और शेख मुर्सलीन के रूप में हुई है।

कुलगाम में पांच श्रमिकों की हत्या के बाद पूरी वादी में जबरदस्त तनाव है। अभी किसी भी आतंकी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है, लेकिन सुरक्षाबलों ने हत्यारे आतंकियों को मार गिराने का अभियान छेड़ दिया है। देर शाम तक कुलगाम सहित पूरे कश्मीर में बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया गया।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप