कोलकाता, राज्य ब्यूरो। दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, पुणे, अहमदाबाद सहित भारत के छह अन्य महत्वपूर्ण शहरों के लिए कोलकाता की उड़ानें नियमित नहीं हैं। कोरोना के कारण इतने दिनों तक बंद रहने के बाद, कोलकाता हवाई अड्डा सलाहकार समिति इसे फिर से सामान्य करने के लिए बंगाल सरकार से अपील करने जा रही है।

समिति के सूत्रों ने बताया कि इन शहरों से दैनिक उड़ानों पर प्रतिबंध पर पुनर्विचार करने के लिए अगले सप्ताह एक अनुरोध किया जाएगा। इस समिति के अध्यक्ष तृणमूल सांसद सौगत राय हैं। एयरपोर्ट एडवाइजरी कमेटी उसके समक्ष आवेदन करने जा रही है। पिछले महीने के मध्य में, सौगत राय ने खुद राज्य के मुख्य सचिव को एक पत्र लिखा था जिसमें उनसे हवाई यातायात को सामान्य करने का अनुरोध किया था। वह सेवा सलाहकार समिति के साथ बैठक में भी बैठे।

हवाई अड्डे के अधिकारियों सहित एयरलाइंस के अधिकारियों के साथ इस बारे में चर्चा की। इस मामले पर चर्चा करने के बाद, समिति ने राज्य सरकार को एक आवेदन किया था जिसके बाद एक महीना बीत गया। समिति उसी अरजी के साथ फिर से बंगाल सरकार से संपर्क करने जा रही है।

मौजूद समय में दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, पुणे, अहमदाबाद, नागपुर से कोलकाता के लिए सप्ताह में तीन दिन उड़ानें हैं। सरकार ने यह निर्णय उन राज्यों में कोविड की स्थिति और राज्य के लोगों की शारीरिक सुरक्षा को देखते हुए लिया। सप्ताह में तीन दिन के बजाय सप्ताह में सात दिन उड़ान संचालित करने का अनुरोध किया गया था। हवाईअड्डा सलाहकार समिति के अनुरोध के एक महीने बाद भी स्थिति में बदलाव नहीं आया। इन शहरों से तीन दिनों के लिए उड़ानें ही रही।

ट्रैवल एजेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के चेयरपर्सन अनिल पंजाबी ने कहा, 'हवाई यातायात को सामान्य करने के लिए हमने राज्य सरकार से अपील करते हुए दो बार पत्र लिखा है। लेकिन स्थिति अभी तक सामान्य नहीं हो पाई. नतीजतन, पर्यटन क्षेत्र को काफी नुकसान हो रहा है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप