राज्य ब्यूरो, कोलकाता। उत्तर कोलकाता और उत्तर 24 परगना के लोगों के लिए लाइफ लाइन से कम नहीं टाला ब्रिज पूरी तरह से अभी तक तैयार नहीं हो पाया है। नये टाला ब्रिज का डेडलाइन एक बार फिर से पार हाे चुका है। लगभग दो डेडलाइन पार हो चुका है तथा अब तीसरे का इंतजार है। गत विधानसभा सत्र के दौरान राज्य के पीडब्ल्यूडी मंत्री मलय घटक ने आशा व्यक्त की थी कि फरवरी- मार्च (2022) तक ब्रिज शुरू हो जाये, मगर किन्ही कारणों से ऐसा नहीं हो पाया है। सूत्रों के मुताबिक अब जुलाई तक नया टाला ब्रिज की शुरूआत हो सकती है। अभी भी काम जारी है।

स्थानीय विधायक व डिप्टी मेयर अतिन घोष ने कहा कि पहले क्या डेडलाइन दिया गया था इसकी जानकारी उन्हें नहीं है लेकिन अब पूरा यकीन है कि जुलाई से नया टाला ब्रिज चालू हो जायेगा। इस ओर काम तेजी से चल रहा है। डिप्टी मेयर खुद कई बार निर्माणाधीन ब्रिज का परिदर्शन कर चुके हैं तथा इंजीनियरों से बातचीत करके काम पर पूरी निगरानी बनाये हुए है।

रेलवे की है यह भूमिका

जब भी किसी रेलवे लाइन के ऊपर से कोई ब्रिज गुजरता है तो ऐसे में लाइन के ऊपर का हिस्सा रेलवे की देखरेख में होता है। वहां किसी भी तरह का बदलाव तभी संभव है जब रेलवे बोर्ड की सहमति हो। माझेरहाट ब्रिज की ही तरह टाला ब्रिज भी आरोबी (रेल ओवर ब्रिज) है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक टाला ब्रिज के लिए भी यह अनुमति रेलवे की तरफ से दी गयी है। गत दिसंबर महीने में रेल की तरफ से अनुमति (सीआरएस) मिल गयी। इसके बाद से ही टाला ब्रिज का काम तेजी से चला। ब्रिज तैयार का अनुमानिक खर्च करीब 465 करोड़ रुपये है। सीएम ममता बनर्जी नये ब्रिज का उद्घाटन कर सकती हैं।

बता दें कि ईस्ट-वेस्ट मेट्रो के पूरे खंड पर ट्रायल रन, एक सुरंग के एक खंड पर ट्रैक बिछाना और बिजली और सिग्नलिंग उपकरण लगाना कुछ ऐसे ही महत्वपूर्ण काम हैं जो 11 मई की दुर्घटना के कारण रुके हुए हैं। इस काम के दौरान हुई दुर्घटना के कारण बहूबाजार की कई इमारतों में दरारें आ गयीं और 150 से अधिक लोगों को विस्थापित कर दिया। यह 38 मीटर अंडरग्राउंड शाफ्ट के 9 मीटर की ढलाई के दौरान हुआ। केएमआरसीएल के जीएम ए. के. नंदी ने कहा कि जुलाई में सेक्टर 5 से लेकर हावड़ा मैदान के बीच 16.5 किलोमीटर की लंबाईवाली ईस्ट-वेस्ट मेट्रो के ट्रायल रन करने की योजना थी। साल्टलेक-बाउंड टनल में पूरे खंड पर ट्रैक बिछाए गए हैं। अधिकारी पूरे मार्ग के लिए सुरंग के माध्यम से ट्रेनों के परीक्षण की योजना बना रहे थे। अब इसे टाल दिया गया है। 

Edited By: Priti Jha