राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल के पश्चिम मेदिनीपुर जिले के पंचखुंडी गांव में गुरुवार को  केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री वी मुरलीधरन की कार पर हुए हमले की भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कड़ी निंदा की है। नड्डा ने कहा कि वी मुरलीधरन के काफिले पर सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कार्यकर्ताओं द्वारा किया गया यह हमला बहुत ही निंदनीय है। नड्डा ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'पश्चिम मेदिनीपुर में केंद्रीय मंत्री वी. मुरलीधरन जी के काफिले पर टीएमसी के कार्यकर्ताओं द्वारा किया गया हमला बहुत ही निंदनीय है।मैंने कल ही कहा था कि बंगाल में कानून- व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है, जहां भारत सरकार के मंत्री पर हमला हो जाए, वहां आम जनता की क्या स्थिति होगी।'

नड्डा ने आगे कहा, 'चुनाव परिणाम आने के बाद से पूरे बंगाल में टीएमसी प्रायोजित हिंसा चरम पर है। लगातार भाजपा कार्यकर्ताओं पर जानलेवा हमले हो रहे हैं। जब हजारों लोग जान बचाने के लिए पलायन कर रहे हैं, दुष्‍कर्म की घटनाएं हो रही हैं, तब फ्रीडम ऑफ स्पीच और मानवाधिकार की वकालत करने वाले गायब हैं।'

प्रकाश जावड़ेकर ने भी की हमले की निंदा

पश्चिम मेदिनीपुर जिले में विदेश राज्य मंत्री वी. मुरलीधरन की कार पर दोपहर में स्थानीय लोगों की भीड़ ने हमला किया। इस हमले की केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी निंदा की और कहा कि बंगाल में आज जिस तरह केंद्रीय मंत्री पर हमला हुआ है, वहां की सरकार ने लोकतंत्र को शर्मसार कर दिया है। ये सरकार प्रायोजित हिंसा है। हम इसकी निंदा करते हैं।

जावड़ेकर ने कहा, 'जब मंत्री सुरक्षित नहीं है तो फिर सामान्य जनता का क्या होगा।' जावड़ेकर ने कहा कि जिन पुलिस अधिकारियों और जिनकी उपस्थिति में यह हमला हुआ है उन पर भी कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रचार में भी कहती थीं कि चुनाव के तीन दिन बाद सुरक्षाबल चले जाएंगे फिर आप हमारे ही हाथ में हो। ये एक साजिश के तहत बंगाल के भाजपा समर्थकों को पीटने का कार्यक्रम बना है।

मुरलीधरन ने हमले की ट्वीट कर दी जानकारी

विदेश राज्य मंत्री वी. मुरलीधरन ने ट्वीट कर कहा, 'टीएमसी के गुंडों ने पश्चिम मेदिनीपुर में मेरे काफिले पर हमला किया। मेरी गाड़ी की खिड़कियों को तोड़ा और निजी कर्मचारियों पर हमला किया। मुरलीधरन पश्चिम मेदिनीपुर में हिंसा से पीड़ित कार्यकर्ताओं से मुलाकात करने गए थे।

वहां कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर लौट रहे थे, उसी समय उनकी कार पर कुछ स्थानीय लोगों ने हमला बोल दिया। इसमें उनकी कार क्षतिग्रस्त हुई है। हालांकि उन्हें चोट नहीं आई है।उनके ड्राइवर और काफिले में शामिल कहीं और स्टाफ को हालांकि चोटें आई है। साथ ही कुछ मीडिया कर्मी भी घायल हुए हैं। भाजपा नेताओं का आरोप है कि टीएमसी समर्थित गुंडों ने मंत्री के काफिले पर हमला किया है।