कोलकाता, एजेंसी। कोलकाता में दुनिया की सबसे सस्ती मेट्रो सेवा शुरू हो जाएगी। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल 13 फरवरी को इस मेट्रो सेवा का उद्घाटन करेंगे और 14 फरवरी से इसे आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा।इसके लिए जो निमंत्रण कार्ड जारी किया गया है उससे ममता बनर्जी का नाम गायब है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का नाम निमंत्रण पत्र से गायब होने पर तृणमूल कांग्रेस पार्टी ने कड़ा विरोध जताया है। गुरुवार को कोलकाता में ईस्ट-वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के फेज -1 का उद्घाटन रेल मंत्री पीयूष गोयल करने वाले हैं। 

 मेट्रो के उद्घाटन के लिए जो निमंत्रण पत्र जारी किया गया है उसमें उद्घाटनकर्ता के रूप में केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल का नाम लिखा गया है। वहीं भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो का नाम गेस्ट ऑफ ऑनर में दिया गया है। बारासात से तृणमूल सांसद काकोली घोष दस्तीदार का नाम दिया गया है। इन दोनों नेताओं ने कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लेने का फैसला किया है। ईस्ट-वेस्ट मेट्रो कॉरीडोर के उद्घाटन समारोह में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को आमंत्रित नहीं करने के विरोध में पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के एक वरिष्ठ सांसद और एक विधायक ने कार्यक्रम का बहिष्कार करने का निर्णय किया है। वरिष्ठ सांसद काकोली घोष दस्तीदार और विधायक सुजीत बोस ने कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लेने का फैसला लिया है। सेक्टर पांच को सॉल्ट लेक स्टेडियम से जोड़ने वाले ईस्ट वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के पहले चरण का उद्घाटन रेल मंत्री पीयूष गोयल शाम को करेंगे।

जानकारी हो कि यह पूरे देश की, यहां तक दुनिया की सबसे सस्ती मेट्रो सेवा होगी, जिसमें एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक का किराया मात्र 5 रुपये होगा इसमें कई तरह की यात्री सुविधाएं भी होंगी यह किसी भी मेट्रो सेवा की तुलना में सबसे सस्ती मेट्रो सेवा होगी इसमें प्लेटफॉर्म स्क्रीन डोर और डिटेक्शन सिस्टम जैसी आधुनिक सुविधाएं होंगीमेट्रो रेलवे का कहना है कि जल्दी ही कोलकाता की जनता के लिए यह सेवा बढ़कर 12 किलोमीटर तक हो जाएगी। इसी के साथ कोलकाता शहर के इतिहास में एक और अध्याय जुड़ जाएगा। पहले फेज में फिलहाल 6 किलोमीटर लंबी लाइन की शुरुआत होने जा रही है दूसरे फेज का निर्माण पूरा होने के बाद यह मेट्रो सेवा सॉल्ट सेक्टर 5 से हावड़ा मैदान के बीच 15 किलोमीटर का सफर तय करेगी।

न्यूनतम पांच व अधिकतम 30 रुपये किराया

तालिका के अनुसार 2 किमी तक के लिए 5 रुपये, 5 किमी तक 10 रुपये, 10 किमी तक 20 रुपये तथा 16.5 किमी तक के लिए 30 रुपये यात्रियों को चुकाने होंगे। कोलकाता ने 20वीं सदी में देश की पहली मेट्रो सेवा शुरू करके इतिहास रचा था अब 21वीं सदी में सिलसिला जारी रहेगा। कोलकाता में पहली मेट्रो रेल सेवा 1984 में शुरू हुई थी। कोलकाता ईस्ट-वेस्ट मेट्रो इस शहर में दूसरी मेट्रो सेवा होगी पहले फेस का निर्माण कार्य पूरा हो गया है जिसे कोलकाता की जनता के लिए आज चालू किया जा रहा है। कोलकाता शहर को और अधिक परिवहन व्यवस्था की सख्त जरूरत है और इस मेट्रो परिवहन प्रणाली से कोलकाता को बहुत फायदा होगा। यह मेट्रो लाइन सियालदाह से हावड़ा तक शहर के कुछ प्रमुख स्टेशनों से जोड़ेगी। सियालदाह स्टेशन पर एक दिन में लगभग 15 लाख यात्रियों के आने का  अनुमान है, हावड़ा पर इससे थोड़ी कम भीड़ हो सकती है।

पीयूष गोयल करेंगे उद्घाटन

कोलकाता मेट्रो रेलवे भारत सरकार के रेल मंत्रालय के तहत चिन्हित 17 क्षेत्रों में से एक है। कई राज्यों में जो मेट्रो प्रोजेक्ट चल रहे हैं, उससे अलग यह केंद्र सरकार का उपक्रम है। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल 13 फरवरी को इस मेट्रो सेवा का उद्घाटन करेंगे और 14 फरवरी से इसे आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा। अब 35 वर्ष बाद कोलकाता वासियों को एक अन्य रूट ईस्ट वेस्ट के रूप में दूसरी मेट्रो सेवा की सौगात मिलने जा रही है, जिसका उद्घाटन गुरुवार शाम रेल मंत्री पीयूष गोयल करेंगे। प्रथम चरण में साल्टलेक सेक्टर पांच से साल्टलेक स्टेडियम के बीच 5.3 किमी तक पहली मेट्रो दौड़ेगी। स्वचालित अत्याधुनिक मेट्रो रैक को फिलहाल मोटरमैन द्वारा चलाया जाएगा।

अब तक सड़क मार्ग से उक्त दूरी को तय करने में करीब डेढ़ घंटा लगता था, लेकिन मेट्रो के शुरू होने से यह सफर कुल 13 मिनट में पूरा होगा। छह कोच वाली यह नई अत्याधुनिक मेट्रो है। कार्यक्रम में केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन राज्यमंत्री बाबुल सुप्रियो, बंगाल के अग्नि एवं आपातकालीन सेवा (स्वतंत्र प्रभार) एवं वन मंत्री सुजीत बसु, सांसद काकलि घोष दस्तीदार तथा विधानगर की मेयर कृष्णा चक्रवर्ती आदि उपस्थित रहेंगे।

छह स्टेशनों के बीच दौड़ेगी मेट्रो ट्रेन

सूत्रों के अनुसार, ईस्ट वेस्ट मेट्रो प्रोजेक्ट के तहत प्रथम चरण में सेक्टर 5 से साल्टलेक स्टेडियम तक कुल 5.3 किमी का काम बीते वर्ष ही पूरा कर लिया गया था। इसके बाद सीआरएस ने प्रथम चरण में तैयार मेट्रो स्टेशन सेक्टर-5, करुणामयी, सेंट्रल पार्क, सिटी सेंटर, बंगाल केमिकल, साल्टलेक स्टेडियम स्टेशनों का निरीक्षण कर यात्री सुरक्षा, सुविधा समेत अन्य तकनीकी बारीकियों को देखा था। निरीक्षण के बाद सीआरएस ने उद्घाटन के लिए समयसीमा 30 नवंबर तक निर्धारित कर दी थी, लेकिन राजनीतिक दखलअंदाजी और तकनीकी समस्याओं की वजह से उद्घाटन कार्यक्रम टल गया था।

यात्रियों को ईस्ट वेस्ट मेट्रो सेवा सुबह 8 से शाम 8 बजे तक मिलेगी। शुरुआत में 20 मिनट के अंतराल में ट्रेनें चलेंगी। यात्री संख्या बढ़ने पर कम समय के फासले में ट्रेनें चलाने पर निर्णय लिया जाएगा। फिलहाल, स्वचालित अत्याधुनिक रैक को मोटरमैन द्वारा चलाया जाएगा। इसके लिए उन्हें विशेष प्रशिक्षण दिया गया है।

आगामी दिनों में बिना मोटरमैन के ही ट्रेनें चलाई जाएंगी। प्रथम चरण के शुरू हो जाने से अभी तक सड़क मार्ग से डेढ़ घंटे में तय होने वाली 5.3 किमी की दूरी कुल 13 मिनट में पूरी हो जाएगी। उधर, साल्टलेक स्टेडियम से फूलबागान तक मेट्रो सेवा शुरू करने की तैयारी भी जोरशोर से शुरू कर दी गई है।

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस