राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल में वाम दलों से जुड़े किसान संगठनों के सदस्यों ने कृषि विधेयकों को वापस लेने की मांग को लेकर शुक्रवार को राष्ट्रव्यापी बंद के दौरान विरोध प्रदर्शन किया। माकपा के किसान मोर्चा 'सारा भारत कृषक सभा' और भाकपा, फॉरवर्ड ब्लॉक तथा आरएसपी जैसे वाम साझेदारों से जुड़े किसान संगठनों ने कई जिलों में रैलियां निकालीं और कुछ देर के लिये सड़कें भी जाम कीं। 

जुलूस निकाल कर कृषि विधेयक के विरोध में प्रदर्शन

कुछ जगहों पर प्रदर्शनकारियों ने सब्जियां तथा कृषि उत्पाद लेकर जुलूस निकाला और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के खिलाफ नारेबाजी की। कोलकाता में वाममोर्चा के चेयरमैन विमान बोस की अगुवाई में जुलूस निकालकर कृषि विधेयक के विरोध में प्रदर्शन किया गया। इसमें कई वरिष्ठ नेताओं व बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। 

केंद्र सरकार किसानों, मजदूरों व आम लोगों की विरोधी 

इस दौरान विमान बोस ने कहा कि यह केंद्र की सरकार किसानों, मजदूरों व आम लोगों की विरोधी है। इस बिल से किसान तबाह हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए यह बिल पास किया गया है। बोस ने जोर देकर कहा कि जब तक इस बिल को वापस नहीं लिया जाता वे लोग इसके खिलाफ आंदोलन जारी रखेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस