हावड़ा राज्य ब्यूरो, कोलकाता : हावड़ा जिले के उलबेरिया उत्तर विधानसभा क्षेत्र के तुलसीबेरिया इलाके में तृणमूल कांग्रेस नेता गौतम घोष के घर से ईवीएम (इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन) और वीवीपैट (वोटर वेरिफिएबल पेपर आडिट ट्रेल) बरामद हुए हैं। भाजपा कार्यकर्ताओं ने इसे लेकर घोष के घर के सामने विरोध-प्रदर्शन किया। इस मामले में चुनाव आयोग ने कार्रवाई करते हुए सेक्टर आफिसर तपन कुमार सरकार व उसके दो सहायकों संजीव मजुमदार व मिथुन चक्रवर्ती को निलंबित कर दिया है।

जानकारी के अनुसार सोमवार रात करीब दो बजे स्थानीय सेक्टर आफिसर तपन कुमार सरकार चुनाव आयोग की गाड़ी से ईवीएम और वीवीपैट लेकर तृणमूल नेता के घर पहुंचा था। गाड़ी से उसे उतारते वक्त पड़ोस के कुछ लोगों को इसका पता चला तो उन्होंने इसका विरोध किया। इसके बाद वहां भाजपाइयों का जमावड़ा लग गया और उन्होंने विरोध-प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। उन्होंने सेक्टर आफिसर को रोककर रखा। सेक्टर आफिसर ने बताया कि वह ईवीएम व वीवीपैट को सुरक्षित रखने के लिए उसे तृणमूल नेता के घर लेकर आया था, जो कि उसका रिश्तेदार है।

भाजपा नेताओं का कहना है कि ईवीएम में गड़बड़ी कर वोट लूटने के इरादे से उन्हें तृणमूल नेता के घर लाया गया था। खबर पाकर राजपुर थाने की पुलिस और सीआरपीएफ के जवान मौके पर पहुंचे और स्थिति को नियंत्रित किया। इसके साथ ही मामले की चुनाव आयोग से शिकायत की गई है। आयोग ने कार्रवाई करते हुए सेक्टर आफिसर व उसके दो सहायकों को निलंबित कर दिया है।

तृणमूल हार देख कर रही है बदमाशी : भाजपा प्रदेशाध्यक्ष

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष दिलीप घोष ने तंज कसते हुए कहा कि तृणमूल एक तरफ ईवीएम पर सवाल उठाती है और दूसरी तरफ उसे घर में रखती है। तृणमूल जानती है कि वह चुनाव में हारने वाली है, इसलिए अब बदमाशी करके जीतने की कोशिश कर रही है। यह आज की बात नहीं है बल्कि उसकी पुरानी आदत है। पंचायत चुनाव के समय न्यूटाउन से भी तृणमूल के लोग ईवीएम उठा ले गए थे और हुगली नदी में फेंक दिया था। ये सब घटनाएं चुनाव के समय घटती हैं। हमें इन सब चीजों को बदलने में वक्त लगेगा।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021