राज्य ब्यूरो, कोलकाता : कोलकाता में सेना के पूर्वी कमान मुख्यालय की ओर से शनिवार को 74वां बार सेना दिवस समारोह सादगी के साथ मनाया गया। सेना दिवस कार्यक्रम के तहत यहां फोर्ट विलियम स्थित कमान मुख्यालय में विजय स्मारक पर सुबह पूर्वी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे ने पुष्प चक्र अर्पित किया और राष्ट्र के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वाले सैनिकों/ वीर योद्धाओं को श्रद्धांजलि अर्पित की।

पूर्वी सेना कमान की ओर से जारी एक बयान में बताया गया कि इसी तरह पूर्वी थिएटर के सभी सैन्य स्टेशनों में भी 74वां सेना दिवस समारोह मनाया गया और विभिन्न युद्ध स्मारकों पर पुष्प चक्र अर्पित कर देश के लिए अपने प्राण न्योछावर करने वाले योद्धाओं को श्रद्धांजलि दी गई।वहीं, इस खास अवसर पर पूर्वी कमान की 26 इकाइयों को अनुकरणीय व पेशेवर प्रदर्शन के लिए जनरल आफिसर कमांडिंग इन चीफ (जीओसी), पूर्वी कमान प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया।

इसके अलावा कुछ यूनिटों को थल सेनाध्यक्ष प्रशस्ति पत्र से भी सम्मानित किया गया। गौरतलब है कि 15 जनवरी का दिन भारतीय सेना के लिए बेहद खास है। लेफ्टिनेंट जनरल के एम करियप्पा के इस दिन 1949 में अंतिम ब्रिटिश कमांडर-इन-चीफ जनरल सर फ्रांसिस बुचर के स्थान पर भारतीय सेना के पहले कमांडर-इन-चीफ के तौर पर पदभार ग्रहण करने की स्मृति में हर साल 15 जनवरी को सेना दिवस के रूप में मनाया जाता है।

वहीं, इस मौके पर पूर्वी सेना कमांडर ने अपने संदेश में, सभी सैन्य कर्मियों को बहादुर शहीदों के समर्पण, संकल्प और बलिदान से प्रेरणा लेने और भविष्य की सभी चुनौतियों के लिए तैयार रहने का आह्वान किया। सैन्य कमांडर ने बहादुरी और विशिष्ट सेवा के लिए मेधावी इकाइयों और व्यक्तियों की भी सराहना की। उन्होंने इस खास मौके पर सभी सैन्यकर्मियों, पूर्व सैनिकों, रक्षा असैन्य कर्मचारियों और पूर्वी कमान के कर्मियों के परिवार को शुभकामनाएं भी दीं।

Edited By: Vijay Kumar