-कोलकाता, हावड़ा सहित उत्तर बंगाल के जिलों में महसूस किए गए भूकंप के तेज झटके

- भूकंप के दौरान सिलीगुड़ी में सीढ़ी से गिरने से युवक की हुई मौत

-5.5 थी तीव्रता, 15 से 20 सेकेंड तक महसूस किए गए झटके

जागरण न्यूज नेटवर्क, कोलकाता : पूर्वोत्तर के राज्यों के साथ पश्चिम बंगाल के कई हिस्सों में भी बुधवार सुबह भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5.5 बताई जा रही है। मौसम विभाग के अनुसार, भूकंप सुबह करीब 10 बजकर 20 मिनट व 29 सेकेंड पर आया और करीब 15 से 20 सेकेंड तक इसके झटके महसूस किए गए। अधिकारियों के अनुसार, राजधानी कोलकाता सहित आसपास के जिलों- उत्तर व दक्षिण 24 परगना, हावड़ा, हुगली के अलावा खासकर उत्तर बंगाल के छह जिलों- जलपाईगुड़ी, दार्जिलिंग, मालदा, अलीपुरद्वार, कूचबिहार व उत्तर दिनाजपुर में भूकंप के झटके महसूस किए गए जिसके कारण लोगों में दहशत देखी गई। सुबह के समय अचानक भूकंप का तेज कंपन महसूस होने के बाद खासकर उत्तर बंगाल के दार्जिलिंग, सिलीगुड़ी सहित अन्य क्षेत्रों में घबराए लोग अपने घरों व दफ्तरों से बाहर निकलकर सड़क एवं मैदानी इलाकों में चले गए। बताया जा रहा है कि एक साथ चंद सेकेंड के अंतराल पर दो बार कंपन महसूस किया गया। भूकंप से कई घरों में पंखे भी हिलने लगे।

पुलिस के अनुसार, भूकंप से राज्य में ज्यादा जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है। हालांकि दार्जिलिंग जिले के सिलीगुड़ी में भूकंप से एक युवक की मौत की खबर है। मृतक का नाम सम्राट दास (22) बताया गया है। वह शांतिनगर का निवासी है। भूकंप के दौरान घर की सीढि़यों से उतरने के दौरान गिर जाने से वह घायल हो गया। आनन-फानन में उसे सिलीगुड़ी के एक नर्सिग होम ले जाया गया जहां उसने दम तोड़ दिया। मृतक युवक बीएड की पढ़ाई कर रहा था।

इसके साथ भूकंप से उत्तर बंगाल में कुछ इमारतों में दरार आने की भी खबर है। बता दें कि भूकंप का केंद्र असम के कोकराझार से दो किलोमीटर दूर उत्तर में था और इसकी गहराई जमीन के अंदर 10 किलोमीटर थी।

Posted By: Jagran