राज्य ब्यूरो, कोलकाता : अयोध्या में ऐतिहासिक राम मंदिर निर्माण के लिए बुधवार को हुए भूमि पूजन के अवसर पर बंगाल में भी राम भक्ति चरम पर दिखी और हर ओर राममय नजर आया। कोरोना को लेकर राज्य सरकार द्वारा इस दिन घोषित राज्यव्यापी पूर्ण लॉकडाउन के बावजूद लोगों ने भूमि पूजन का जमकर जश्न मनाया। पुलिस की सख्ती के बावजूद कोलकाता सहित विभिन्न हिस्सों में कई लोग न केवल घरों से बाहर निकलकर मंदिरों में पूजा अर्चना की बल्कि घरों में भी लोगों की भक्ति अपने उफान पर थी। अयोध्या में प्रधानमंत्री मोदी जब शुभ मुहूर्त में दोपहर लगभग 12:30 बजे भूमि पूजन कर रहे थे उसी समय बंगाल में भाजपा, विश्व हिंदू परिषद, आरएसएस, हिंदू जागरण मंच सहित अन्य हिंदूवादी संगठनों के नेताओं, कार्यकर्ताओं एवं आम लोगों ने अपने-अपने घरों में शंख ध्वनि व घंटा बजाकर खुशी का इजहार किया। 

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष व सांसद दिलीप घोष ने भी कोलकाता के न्यूटाउन स्थित अपने आवास पर इस दौरान श्रीराम व हनुमान जी की पूजा- अर्चना की एवं शंखनाद किया। घोष ने इस दौरान पत्रकारों से बात करते हुए आरोप लगाया कि तृणमूल सरकार जानबूझकर इस दिन लॉकडाउन लगाकर समाज में विभाजन पैदा करने की कोशिश कर रही है जिसका खामियाजा उसे आगामी चुनाव में भुगतना पड़ेगा। वहीं, शाम में घरों व मंदिरों में दीप जलाए गए। राजभवन में भी शाम में बड़ी संख्या में दीये जलाकर भूमि पूजन का जश्न मनाया गया। 

भाजपा कार्यकर्ताओं ने सुबह 3 बजे ही निकाला जुलूस

इससे पहले राज्य में सुबह 6 बजे से पूर्ण लॉकडाउन शुरू होने से पहले 3 बजे सुबह में ही भाजपा कार्यकर्ताओं ने कोलकाता, हावड़ा सहित विभिन्न जिलों में भूमि पूजन की खुशी में जुलूस व शोभायात्रा भी निकाली। हावड़ा में प्रदेश भाजपा महासचिव संजय सिंह की अगुवाई में जिला पार्टी कार्यालय से सुबह 3 बजे एक विशाल जुलूस गाजे-बाजे के साथ विभिन्न रास्तों से होते हुए रामराजातल्ला स्थित प्रसिद्ध राम मंदिर पहुंचा। जुलूस में हजारों की संख्या में लोग उपस्थित थे। वहीं विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने भी लॉकडाउन शुरू होने से पहले ही जुलूस निकाला और हर तरफ भगवा पताका लहराता हुआ नजर आया।

मायापुर इस्कॉन मंदिर में दिनभर हुआ भजन कीर्तन

दूसरी ओर, नदिया के मायापुर स्थित इस्कॉन मंदिर सहित अन्य मंदिरों में दिनभर भजन-कीर्तन का कार्यक्रम चलता रहा और शाम को यहां दीप जलाए गए। मायापुर इस्कॉन मंदिर के प्रवक्ता सुब्रत दास ने बताया कि चंद्रोदय मंदिर में दिनभर भजन कीर्तन हुआ तथा शाम को दीप मालाएं सजाई गई। 

लॉकडाउन तोड़ने पर पुलिस के साथ कई जगहों पर हुई झड़प

इधर, पूर्ण लॉकडाउन व भूमि पूजन को देखते हुए पूरे राज्य में पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए थे। विभिन्न मंदिरों के बाहर पुलिसकर्मी भी तैनात किए गए थे ताकि वहां कोई जमावड़ा ना हो सके। बीरभूम जिले में भाजपा कार्यालय के सामने लॉकडाउन के दौरान श्रीराम पूजा रोकने गई पुलिस के साथ धक्का-मुक्की भी हुई। उधर, भूमि पूजन पर हुगली के आरामबाग में उत्साहित भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ सत्तारूढ़ तृणमूल कार्यकर्ताओं की झड़प की भी खबर है इसमें कई लोग घायल हो गए। इस मामले में पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार भी किया है। इस तरह लॉकडाउन के बावजूद राज्य में कई जगहों पर लोगों ने नियमों का उल्लंघन कर घरों से बाहर निकलकर मंदिरों या अन्य स्थानों पर इकट्ठा होकर भूमि पूजन का जश्न मनाने की कोशिश की। इसको लेकर पुलिस के साथ कई जगहों पर झड़प व कहासुनी की घटनाएं सामने आई।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस